सीमा पर तैनात जवानों के लिए भोपाल ने भेजा स्नेह का अटूट ‘बंधन’

Aug 04, 2016

सीमा पर तैनात जवानों के लिए भोपाल ने भेजा स्नेह का अटूट ‘बंधन’

शहर में नवदुनिया के भारत रक्षा पर्व के रथ का जोरदार स्वागत, देश की रक्षा कर रहे फौजियों के लिए भेजीं हैंडमेड राखियां और शुभकामनाएं

भोपाल। नवदुनिया ने शहर के लोगों को देश की सीमा पर तैनात सैनिकों तक राखियां और शुभकामनाएं पहुंचाने का मौका दिया। नवदुनिया/नईदुनिया समूह की ओर से मनाए जा रहे ‘भारत रक्षा पर्व’ के तहत रक्षा रथ बुधवार को भोपाल पहुंचा। इसका शहर की महिलाओं, बच्चों और युवाओं ने पूरे उत्साह के साथ स्वागत किया। नन्हें बच्चों ने जहां वीर जवानों के लिए अपने हाथों से तैयार राखियां और ग्रीटिंग कार्ड रक्षा रथ को दिए, वहीं महिलाओं ने खूबसूरत राखियों के साथ सीमा पर तैनात भाइयों के लिए हल्दी और कुमकुम का टीका भी भेजा।

रक्षा रथ से जुड़ना मंदिर जाने जितना पुण्य का कामः दीपक जोशी

भारत रक्षा रथ को स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी ने शहर में हरी झंडी दिखाई। मॉडल हायर सेकंडरी स्कूल में आयोजित रक्षा रथ के शुभारंभ समारोह में मंत्री जोशी ने कहा, ‘सीमा पर तैनात फौजियों के लिए दुआओं से भरी राखियों के रथ को हरी झंडी दिखाने का काम मेरे लिए मंदिर जाने जितना ही पुण्य का है। आज मुझे पं. माखनलाल चतुर्वेदी की कविता ‘पुष्प की अभिलाषा’ याद आ रही है, जिसमें उन्होंने एक फूल की नजर में देवों के शीश पर चढ़ने से ज्यादा श्रेष्ठ वीरों के पथ पर बिछ जाना है। देश के जवान सीमा पर रोज चुनौतियां का सामना करने हैं, ताकि हम अपने घर में सुकून और शांति के साथ रह सकें। अगर आप भी देश सेवा करना चाहते हैं, तो हर सीमा पर जाने की जरूरत नहीं, बल्कि अपने घर में ही देशहित के लिए काम कर सकते हैं। अगर घर पर दस यूनिट बिजली भी कम खर्च की है, तो यह देश को आगे बढ़ाने में एक मदद ही है।’ इस मौके पर मंत्री जोशी ने सरकारी स्कूलों में पढ़ाने के स्तर को सुधारने के लिए नए सत्र ने एनसीईआरटी सिलेबस लागू करने की घोषणा भी की। रक्षा रथ के शहर में स्वागत के लिए आयोजित समारोह में नवदुनिया के स्थानीय संपादक सुनील शुक्ला, आइसेक्ट के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी महावीर उपाध्याय और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सेल के प्रभारी सत्येन्द्र खरे विशेष रूप से मौजूद रहे।

पहला और अविस्मरणीय मौका

मॉडल स्कूल के प्रिंसिपल एसके रेनिवाल ने कहा, ‘सैनिकों के लिए स्नेह भरा संदेश पहुंचाने का यह स्कूल का पहला मौका था। बच्चों की परीक्षाएं चल रही हैं। इसके बावजूद उनमें रक्षा रथ के लिए इतना उत्साह था कि वे एक दिन पहले ही राखियां बनाने में जुट गए थे। नवदुनिया को धन्यवाद कि उन्होंने हमें यह अविस्मरणीय अवसर प्रदान किया।’

राखियां बांध जवानों के चेहरों पर छाएगी मुस्कान

रक्षा रथ को राखियां भेंट करने आईं मॉडल स्कूल की हेड गर्ल सदफ अली ने कहा, ‘यह पहला मौका है जब मैंने देश के जवानों को राखियां भेजी हैं। हमारे फौजी भाई रक्षाबंधन पर अपनी बहनों से मिल नहीं पाते। ऐसे में जब हमारी राखियां उन तक पहुंचेंगीं, तो उनके चेहरों पर भी थोड़े समय के लिए ही सही, लेकिन मुस्कान तो आ ही जाएगी।’ वहीं, हेड बॉय सौरभ सिंह ने कहा, ‘इस तरह के अभियान के तहत किसी अनजान भाई को राखी और ग्रीटिंग कार्ड भेजने का अनुभव बहुत खास है। पता नहीं, सीमा पर तैनात किस जवान के हाथ में मेरी रक्षा का धागा बंधेगा। ऐसे में सिर्फ हमारी दुआएं ही होंगी जो भारत रक्षा के लिए प्रतिबद्ध जवानों को ताकत देंगी और हमारे प्यार से परिचित कराएंगी।’

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>