दुबई की कंपनी हमीदिया में लगाएगी एमआरआई, सीटी स्कैन व लीनियर एक्सीलरेटर

Jul 08, 2016

दुबई की कंपनी हमीदिया में लगाएगी एमआरआई, सीटी स्कैन व लीनियर एक्सीलरेटर

भोपाल। नवदुनिया न्यूज

हमीदिया अस्पताल में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) से सीटी स्कैन, एमआरआई और लीनियर एक्सीलरेटर की सुविधा दो महीने के भीतर मिलने लगेगी। दुबई की कंपनी यहां पर पीपीपी से यह मशीनें लगाने के लिए तैयार हो गई है। यह सुविधा शुरू होने के बाद निजी जांच केन्द्रों व अस्पतालों से लगभग आधे पैसे में जांचे हो सकेंगी।

हमीदिया अस्पताल के रेडियोडायग्नोसिस विभाग के प्रमुख डॉ. विजय वर्मा ने बताया कि मशीनें लगाने के लिए एक कंपनी तैयार हो गई है। लेकिन अभी तक जगह तय नहीं है। तीन स्पॉट देखे गए हैें। कंपनी के अधिकारी एक-दो दिन में आने वाले हैं, इसके बाद जगह चिन्हित कर ली जाएगी। दरअसल, अलग से कक्ष बनाने में 5-6 महीने लग जाएंगे, लेकिन पुराना कक्ष भी ऐसा नहीं है, जहां सीटी स्कैन व एमआरआई मशाीनें लगाई जा सकें। सूत्रों ने बताया कि कमला नेहरू अस्पताल के सामने तीन मंजिला कैंटीन यह सुविधाएं शुरू की जा सकती हैं। हॉलांकि लीनियर एक्सीलरेटर के लिए एटॉमिक एनर्जी रेगुलेटरी बोर्ड (एईआरबी) के मापदंडों के अनुसार कक्ष होना जरूरी है। कक्ष की दीवार बहुत मोटी या फिर लोहे के बुरादे से बनाई जानी चाहिए। इसके लिए रेडियोथैरेपी विभाग में पहले से बने कक्ष का परीक्षण किया जा रहा है। ये सुविधाए शुरू होने के बाद मरीजों को सीटी स्कैन, एमआरआई के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। अभी सबसे ज्यादा परेशानी भर्ती मरीजों को हो रही है। उन्हें खुद के वाहन से दो किमी दूर निजी जांच केन्द्र में जाना होता है। दूसरा फायदा यह कि सीटी स्कैन, एमआरआई जांच बाजार से लगभग आधे रेट में होगी। निजी जांच केन्द्रों में अभी सीटी स्कैन 1600 से 4000 रुपए व एमआरआई 6 हजार से 8 हजार रुपए में हो रही हैं। लीनियर एक्सीलरेटर लगने से कैंसर के मरीजों की सिकाई भी सस्ते में हो सकेगी। निजी अस्पतालों में 10 हजार से 1 लाख रुपए तक का खर्च लीनियर एक्सीलरेटर से सिकाई कराने में होते हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>