सीबीआई जांच में गड़बड़ियां, 30 जून को सुप्रीम कोर्ट में पेश होना है स्टेटस रिपोर्ट

Jun 06, 2016

सीबीआई जांच में गड़बड़ियां, 30 जून को सुप्रीम कोर्ट में पेश होना है स्टेटस रिपोर्ट

भोपाल। व्यापमं घोटाले की छानबीन से जुड़े रहे एसटीएफ के जांच अधिकारी भी संदेह के दायरे में आ गए हैं। पड़ताल कर रही सीबीआई को साक्ष्य और जब्ती को कई गड़बड़ियां मिली हैं। जिनकी पूछताछ हो रही है। ये कार्रवाई 30 जून को सुप्रीम कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट पेश करने से पहले पूरी होना है। घोटाले के संदर्भ में सीबीआई ने कुल 185 प्रकरण दर्ज किए हैं। ज्यादातर पूर्व जांच एजेंसी एसटीएफ ने पंजीबद्ध किए थे।

कुछ में एसटीएफ जांच पूरी कर चुकी थी, ज्यादातर में जांच अधूरी थी। सीबीआई छानबीन में स्पष्ट हुआ है कि पहले जो साक्ष्य जुटाए गए हैं उनमें गड़बड़ियां छूट गई हैं। खासतौर पर पीएमटी फर्जीवाड़े से जुड़े प्रकरणों में एसटीएफ ने जो जब्ती बनाई थी, उनमें पुख्ता कार्रवाई की कमी रह गई।

एक मामले में एसटीएफ ने छापे के बाद जिन नोटों की जब्ती बनाई उसकी जांच में सामने आया कि कुछ नोटों की सीरीज रिजर्व बैंक से जारी होने की तारीख जब्ती की कार्रवाई के बाद की निकली। भोपाल में एक बिल्डर के यहां से नकदी जब्ती के मामले में भी प्रक्रियागत कमियां मिलीं। इसलिए ऐसी कार्रवाई पर सवाल उठने लगे हैं।

जोड़ रहे अधूरी जुड़ी कड़ियां

सीबीआई सूत्रों का कहना है कि जांच के संदर्भ में एसटीएफ से चर्चा एवं दस्तावेजों के बारे पूछताछ निरंतर रुटीन प्रक्रिया है। ऐसे मामलों में जांच से जुड़ी पूरी कड़ियों को जोड़ा जा रहा है। पीएमटी की जिन परीक्षाओं में व्यापमं अफसरों से सांठगांठ कर फर्जी छात्र (मुन्ना भाई) बिठाए गए थे उन सभी से लंबी पूछताछ के बाद जो जानकारियां सामने आईं हैं उनके बारे में संबंधित पक्ष से भी मिलान कराया जा रहा है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>