भारत उदय कार्यक्रम में शामिल नहीं होने पर पद से हटाने की घमकी: ये तस्वीर बताती है

Apr 25, 2016

पंचायती राज दिवस पर ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के समापन अवसर पर कल प्राधानमंत्री मोदी का भाषण देश की ढाई लाख पंचायतों में लाइव प्रसारित किया गया। मोदी ने अपने पंचायत के नाम इस भाषण में गाँवों की तस्वीर बदलकर उन्हें शहरों जैसी सुविधाओं से लैस करने का अपना इरादा जगजाहिर किया। उनका कहना था कि गावों बदलने लग गए तो देश को बदलने में देर नहीं लगेगी लेकिन कल पंचायत सचिव ने ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के उद्देश्यों पर कुठाराघात करते हुए एक ऐसा तुगलकी फरमान ज़ारी कर दिया जोकि गाँव की ऐसी तस्वीर पेश करता है जिसे सुनकर आप दाँतों तले उंगली दबा लेंगे।

दरअसल कल तीन बजे ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के समापन के अवसर पर प्रधानमन्त्री का लाइव भाषण आने वाला था। इसलिए देशभर में ग्राम पंचायतों के स्तर पर विशेष व्यवस्था करके मोदी का भाषण सुनने का कार्यक्रम रखा गया था जिसमे शामिल नहीं होने पर सरपंच पद से हटाने का फरमान ज़ारी कर दिया गया।

इसलिए मजबूरन मध्य-प्रदेश के शिवपुरी जिले के विलुपुरा गाँव में महिला सरपंच वासु जाटव का इसमें जाना ज़रूरी हो गया। इस तस्वीर में वासु जाटव पति के साथ ग्रामोदय से भारत उदय अभियान पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहीं हैं। क्योंकि पंचायत सचिव ने नहीं आने पर सरपंच पद से हटा देने की घमकी दी थी। वासु की बेटी का इलाज जिला चिकित्सालय में चल रहा था। उलटी और दस्त से पीड़ित थी। घमकी से घबराकर वो बीमार बच्ची को लेकर भाषण सुनने चल दीं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>