भगवंत का नया विडियो, किया जांच कमेटी पर तंज, अपनी सुरक्षा से खिड़वाड़ कर रहा हूं

Aug 04, 2016

आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान एक बार फिर फेसबुक पर लाइव हुए जैसे वह संसद के विवादित वीडियो में हुए थे.

गुरुवार सुबह दिल्ली से अपने संसदीय क्षेत्र संगरूर जाते हुए फेसबुक पर लाइव भगवंत मान ने तंज कसा कि ऐसा करके वह अपनी सुरक्षा से खिलवाड़ कर रहे हैं.

भगवंत ने वीडियो में कहा है कि उन्हें दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि पार्लियामेंट की कमेटी ने अपनी जांत का वक्त दो हफ्ते बढ़ा दिया है और उन्हें संसद आने से मना कर दिया गया है.

उन्होंने कहा, ‘मैं लोगों के मुद्दे संसद में उठाना चाहता था लेकिन अकाली दल, भाजपा और कांग्रेस वाले मेरे पीछे पड़ गए हैं. मैं सिर्फ संसद का सवाल पूछने का ड्रॉ निकालने का प्रॉसेस आप सबको दिखाना चाहता था.’

उन्होंने कहा कि इसके बावजूद उन्होंने बिना शर्त माफी मांगी. लेकिन अब मुझे कहा जा रहा है कि लिखित माफी में से प्रधानमंत्री और पठानकोट वाली बात हटा लूं. लेकिन मैं इन्हें बिल्कुल नहीं हटाउंगा चाहे वह मुझे संसद से ही क्यों ने निकाल दें.

मान ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके बारे में गलत प्रचार किया जा रहा है कि वह नशे के आदी हैं, रात में रैलियां करते हैं, देर रात तक फेसबुक पर लाइव रहते हैं लिहाजा वह अब फैसला जनता पर छोड़ते हैं.

मालूम हो कि बुधवार को लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने मान की ओर से संसद परिसर का वीडियो बनाने के विवाद की जांच कर रही समिति को दो सप्ताह का समय और दे दिया और मान से कहा कि फैसला होने तक वह सदन में नहीं आएं.

बुधवार को मान ने कहा था, ‘वे (लोकसभा) मुझे बाहर निकाल सकते हैं. परंतु उनको निर्णय जल्द करना चाहिए. अब उन्होंने दो और सप्ताह का समय ले लिया है. समिति को जांच करने दीजिए लेकिन तब तक मुझे सदन की कार्यवाही में शामिल होने की इजाजत दी जाए.’

उन्होंने कहा, ‘संसद को दो सप्ताह का समय और मिल गया है, ऐसे में मैं संसद के सत्र से बाहर हो गया जो 12 अगस्त तक है. मैं गरीबों, दलितों और बेराजगारों की आवाज उठाना चाहता था. अब मैं इन मुद्दों को नहीं उठा पाऊंगा.’

मान ने कहा कि इस मुद्दे पर लोकसभा अध्यक्ष को दिए अपने जवाब को वे नहीं बदलेंगे. उन्होंने कहा, ‘वे (समिति) मेरे जवाब में बदलाव चाहते हैं. वे चाहते हैं कि मैं प्रधानमंत्री और आईएसआई का नाम हटाऊं. मैं यह नहीं करूंगा.’

अपने जवाब में मान ने कहा था कि पठानकोट हमले की जांच के लिए ‘आईएसआई को आमंत्रित करने’ को लेकर प्रधानमंत्री उनसे ‘100 गुना ज्यादा दोषी’ हैं.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>