बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ संदेश वाहन से किया जागरुक

Apr 18, 2016

जयपुर/फुलेरा:  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश लेकर निकले बी के भारतीय व
उनकी पत्नी नीता भारतीय ओर ढाई वर्ष की बेटी शनिवार को अजमेर, दूदू होते
हुए फुलेरा पहुचे ओर संदेश लिखे वाहन व पम्पलेट से क्षेत्र के लोगो को
“बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” का संदेश देकर जागरुक किया। नीता भारतीय ने बताया
की आज देश के सामने विकट समस्या हैं लड़कियों का अनुपात लड़को की अपेक्षा
कम होता जा रहा हैं| जो कि एक चिंता का विषय है। अनुपात में गिरावट
महिलाओं के प्रति भेदभाव की ओर संकेत करता है। सीएसआर पूर्व जन्म
पक्षपाती लिंग चयन और जन्म के बाद लड़कियों के साथ किये जा रहे भेदभाव को
दर्शाता है। सामाज द्वारा लड़कियों के साथ भेदभाव किया जा रहा है परन्तु
वो लोग ये नही जानते की केवल बेटी को जन्म देना ही पर्याप्त नहीं उसे इस
दुनियां मैं जीने के लिए काबिल बनाना भी माता पिता का कर्तव्य हैं अगर
बेटी पढ़ी लिखी होगी तो दो परिवार को संस्कारित बना सकेगी | बेटी केवल एक
परिवार का दीपक नहीं होती वह दो परिवार का नाम रोशन करती हैं | बेटियों
को कम आंकने वाले जरा अपनी माँ की तरफ देखो यह वही हैं जिसने तुम जैसो को
जन्म देकर इतना बड़ा बनाया और आज तुम्ही उसके अस्तित्व को मिटाने चले हो|
बी के भारतीय ने बताया कि वो डूंगरपुर के रहने वाले हे ओर 17 सितंबर से
इस नेक कार्य कि शुरुवात की थी सभी को बेटी बचाने व बेटी को पढ़ाने का
संदेश देने के लिए उन्होने अपनी मारुती वेन पर संदेश लिखा रखे हे ओर पुरे
प्रदेश का भ्रमण करेंगे।

(सुनिल कुमावत)

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>