ओबामा की चेतावनी के बाद भी चीन ने दक्षिण चीन सागर में भेजे अपने पोत

Sep 06, 2016
ओबामा की चेतावनी के बाद भी चीन ने दक्षिण चीन सागर में भेजे अपने पोत

हांगझौ। को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति की चेतावनी का चीन पर कोई असर नहीं पड़ा और उसने विवादित क्षेत्र में अपने और पोत भेज दिए हैं। के समुद्री तट के करीब चीन ने लगभग दस पोत तैनात कर रखे हैं।

चीन ने विवादित क्षेत्र में भेजा पोतों का जखीरा

फिलीपींस के रक्षा विभाग ने कहा है कि चीन के दस पोत दक्षिण चीन सागर के विवादित क्षेत्र स्कारबोरो शोल के पास दिख रहे हैं। इस विवादित क्षेत्र पर फिलीपींस और चीन दोनों अपना दावा करते आए हैं।

फिलीपींस के रक्षा मंत्री का बयान

इस बारे में फिलीपींस के रक्षा मंत्री डेल्फिन लॉरेंजाना ने बताया कि चीनी कोस्ट गार्ड के चार पोत तो पहले से विवादित क्षेत्र स्कारबोरो शोल से एक मील से भी कम दूरी पर डेरा डाले हुए हैं। लेकिन इसके साथ अब छह पोत और दिख रहे हैं जिसे चीन ने हाल में भेजा है। ऐसा लग रहा है कि वे उस क्षेत्र में कोई निर्माण कार्य कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें :-  हाफिज सईद के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय कार्रवाई की अपील

चीन को ओबामा ने चेताया था

जी20 समिट में जाने से ठीक पहले सीएनएन को दिए इंटरव्यू में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने चीन को दक्षिण चीन सागर समेत अन्य मामलों में अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन न करने की सलाह दी थी। ओबामा ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से बात कर कहा था कि चीन को अंतरराष्ट्रीय कानूनों के पालन में संयमित व्यवहार दिखाना चाहिए।

ओबामा ने कहा था कि चीन अमेरिका का पार्टनर तभी बना रह सकता है जब वह अंतरराष्ट्रीय कानूनों के दायरे में रहकर कोई कदम उठाए। इसी में चीन की भलाई है क्योंकि एक मजबूत अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था अमेरिका चाहता है जिसमें अंतरराष्ट्रीय नियमों का पालन हो।

जी20 समिट के दौरान चीन ने जताया हक

ये भी पढ़ें :-  मेलबर्न के शॉपिंग सेंटर पर गिरा चार्टड प्लेन, 5 की मौत

जी20 समिट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से मुलाकात में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने दक्षिण चीन सागर पर अपना हक जताया था और कहा था कि इस मामले में चीन अपनी संप्रुभता से कोई समझौता नहीं करेगा और अपने क्षेत्र की रक्षा करेगा।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected