अफसरों की भी बात नहीं बानी बाल विवाह

Mar 06, 2016

अफसरों की समझाइश के बाद भी हो गया बाल विवाह

बिलासपुर (निप्र)। गौरेला क्षेत्र के ग्राम रानीझाप में बाल विवाह रोकने गई टीम की समझाइश के बाद भी वर और वधु पक्ष ने मिलकर गुपचुप तरीके से शादी रचा ली। मामला सामने आने के बाद महिला बाल विकास अधिकारी ने गौरेला थाने में बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने मामले में दूल्हा समेत वर और वधु पक्ष के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

बीते शुक्रवार की रात गौरेला एसडीएम नर्मता गांधी को सूचना मिली कि ग्राम रानीझाप में राठौर परिवार में नाबालिग लड़की की शादी हो रही है। खबर मिलते ही उन्होंने महिला बाल विकास अधिकारी सहित पुलिस की टीम को भेजकर शादी रुकवाने के निर्देश दिए। उनके निर्देश पर अधिकारी रात में ग्राम रानीझाप पहुंचे। इस दौरान बारातियों का स्वागत चल रहा था और वधु पक्ष तैयारी में जुटे हुए थे। वहीं वर पक्ष भी बारात की तैयारी में था। अधिकारियों की टीम ने कोरबा के हरदीबाजार से आए वर पक्ष की जानकारी ली।

इस दौरान पता चला कि कोरबा जिले के हरदीबाजार निवासी आरपी राठौर शिक्षक हैं। उनके बेटे की शादी यहां रानीझाप गांव में बुद्धसेन राठौर की नाबालिग बेटी से तय हुई है। इस पर अधिकारियों ने जिस लड़की की शादी रचाई जा रही थी उसकी अंकसूची की जांच की।

जांच में उसके नाबालिग होने का खुलासा हुआ। लिहाजा, अफसरों ने उन्हें समझाइश दी और शादी रोकने की सलाह दी। अफसरों की समझाइश पर दोनों पक्षों ने शादी नहीं करने लिखित सहमति दे दी। साथ ही यह भी तय किया कि लड़की के बालिग होने पर अगले साल शादी कर लेंगे।

लेकिन रात करीब 10 बजे अफसरों के जाते ही दोनों पक्षों ने गुपचुप तरीके से विवाह रचा ली और नाबालिग को विदा भी कर दिया गया है। इसकी जानकारी सुबह एसडीएम को हुई तो उन्होंने महिला बाल विकास अधिकारी मृदुला ऋषि को दोनों पक्षों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कराने के आदेश दिए।

उनके आदेश पर उन्होंने गौरेला थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई। उनकी रिपोर्ट पर पुलिस ने कोरबा जिले के हरदीबाजार निवासी दूल्हा राज राठौर उसके पिता आरपी राठौर व वधु पक्ष से नाबालिग के पिता बुद्धसेन राठौर सहित अन्य के खिलाफ बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 की धारा 9, 10, 11 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।

महिला बाल विकास विभाग की जीप

 

से बाइक सवार तीन युवक घायल गौरेला क्षेत्र के ग्राम सधवानी के पास महिला बाल विकास विभाग की जीप ने बाइक सवार तीन युवकों को ठोकर मार दिया। इस हादसे में बाइक सवार युवक घायल हो गए। रिपोर्ट पर पुलिस ने जीप चालक के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है। गौरेला पुलिस के अनुसार महिला एवं बाल विकास अधिकारी मृदुला ऋषि व उनकी टीम बीते शुक्रवार की रात ग्राम रानीझाप गई थी।

देर रात लौटते समय उनकी जीप क्रमांक सीजी 02/ 1572 ग्राम सधवानी के पास पहुंची थी। उसी समय बाइक क्रमांक सीजी 10 ए 8105 में सवार खोडरी निवासी अंकित तिवारी, किशन साहू व एक अन्य युवक आ रहे थे। इस दौरान जीप ने बाइक को ठोकर मार दिया। इस हादसे में अंकित व किशन साहू गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें इलाज के लिए सिम्स रिफर कर दिया गया है। इस मामले की रिपोर्ट पर पुलिस ने जीप चालक के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है।

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>