बांग्लादेश: हिन्दू पुजारी को मिली जान से मारने की धमकी

Jun 16, 2016

आईएसआईएस के समर्थक होने का दावा करते हुये संदिग्ध इस्लामवादियों ने ढाका में रामकृष्ण मिशन के एक हिन्दू पुजारी को जान से मारने की धमकी दी.

हिन्दू पुजारी को ‘इस्लामिक बांग्लादेश’ में लगातार धर्मप्रचार करते रहने की स्थिति में जान से मार डालने की धमकी दी है जिसके बाद अधिकारियों ने इलाके में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है.

शहर में वारी थाना के ड्यूटी अधिकारी ने ‘पीटीआई’ को बताया, ”(आरके) मिशन की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है और पुजारी ने शिकायत दर्ज कराई है.” अधिकारी ने पुजारी का नाम बताने से इंकार कर दिया.

मिशन के अधिकारियों की प्रतिक्रिया तत्काल हासिल नहीं हो सकी है लेकिन पुलिस ने बताया कि कल शाम आईएस के कंप्यूटर से बने एक लैटरहेड पर पुजारी को धमकी भरा पत्र मिला. पत्र भेजने वाले ने खुद को एबी सिद्दिकी बताया है.

अधिकारी ने पत्र का हवाला देते हुए बताया, ”बांग्लादेश एक इस्लामिक देश है. आप यहां पर अपने धर्म का प्रचार नहीं कर सकते. अगर आप लगातार प्रचार करते हैं तो 20 से 30 तारीख के बीच आपकी हत्या कर दी जाएगी.”

अधिकारी ने बताया कि पत्र में किसी महीने का जिक्र नहीं किया गया है.

कल शाम नजीमुद्दीन गवर्नमेंट यूनिवर्सिटी कॉलेज में गणित के 50 वर्षीय एक हिंदू व्याख्याता पर हमलावरों में हथियारों से जानलेवा हमला किया था. इस घटना को दक्षिण पश्चिमी बांग्लादेश के मदारीपुर में उनके आवास पर अंजाम दिया गया.

संदिग्ध इस्लामवादियों द्वारा देश में हालिया महीनों में कई धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओं, हिंदुओं और अन्य अल्पसंख्यकों की जान लिये जाने की वजह से प्रशासन ने शुक्रवार से उग्रवाद विरोधी धरपकड़ अभियान शुरू किया है. अब तक करीब 12,000 लोगों को पकड़ा जा चुका है. पकड़े गए लोगों में से कुछ के संबंध प्रतिबंधित जमातुल मुजाहिदीन बांग्लादेश से हैं.

ज्यादातर हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट या इससे संबद्ध समूहों ने या ऐसे ही चरमपंथी समूहों ने ली है लेकिन बांग्लादेश सरकार ने इन दावों को खारिज करते हुए कहा है कि ये हमले विपक्षी बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी से जुड़े, देश के ही गुटों ने किए हैं.

 

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>