ठाकरे परिवार में दौलत की जंग, भाई उद्धव पर जयदेव ने लगाए कई आरोप

Jul 19, 2016

मुंबई। शिवसेना के सुप्रीमो रहे बाला साहेब ठाकरे को तेज तर्रार और मुहंफट नेता माना जाता था। आज उनके बेटे उद्धव इस पार्टी को लीड कर रहे हैं और उद्धव के संबंध सिर्फ राज ठाकरे से ही खराब हैं, जो लोग यह समझते हैं वह पूरी तरह से गलत हैं। बाला साहेब ठाकरे के बेटे जयदेव ठाकरे ने अपने भाई उद्धव पर कई तरह के आरोप बॉम्‍बे हाईकोर्ट में लगाए।

जयदेव ने हाईकोर्ट में यह खुलासा करते हुए कहा कि पिता बाल ठाकरे ने अपनी संपत्ति का कुछ हिस्सा मुझे देने को कहा था। हाईकोर्ट में ठाकरे के वसीयत विवाद पर न्यायामूर्ति गौतम पटेल के सामने सुनवाई चल रही है।

ये भी पढ़ें :-  ट्रक और स्कूल बस की भीषण टक्कर, बच्चों के मरने की संख्या पहुँची 25

उद्धव के वकील के सवालों का जवाब देते हुए जयदेव ने कहा कि याचिका दायर करने के बाद कई बार उन्‍होंने उद्धव से फोन पर बातचीत करने की कोशिश की। लेकिन उद्धव ने उन्‍हें कोई जवाब ही नहीं दिया।

जयदेव की मानें तो उद्धव की नजरअंदाजगी के बाद भी उन्‍होंने अपने संबंधों को हमेशा मधुर बनाए रखने की कोशिशें कीं। जयदेव वर्ष 1995 में मातोश्री छोड़कर चले गए थे और इसके बाद से वह कभी वहां नहीं गए।

उन्‍होंने बताया कि पिता बाला साहेब ने उन्‍हें एक बार बताया था कि उद्धव ने उनसे कुछ डॉक्‍यूमेंट्स साइन कराए हैं।

हाईकोर्ट में जयदेव ने साफ किया कि संपत्ति के हिस्से और उद्धव द्वारा कुछ डॉक्‍यूमेंट्स पर लिए गए हस्ताक्षर के बारे में उन्‍होंने कभी किसी से जिक्र नहीं किया।

ये भी पढ़ें :-  उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव- महागठबंधन तय, RLD- 20 और कांग्रेस-89 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

जयदेव के मुताबिक उनके और उद्धव के बीच किसी तरह का कोई विवाद न हो इसके लिए ठाकरे ने उनके व मेरे बीच हुई बातचीत का उल्लेख किसी से न करने को कहा था। जयदेव की बाला साहेबा ठाकरे से आखिरी मुलाकात वर्ष 2011 में हुई थी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected