बाबरी विध्वंस मामला : उमा भारती से छिन जायेगा मंत्रालय, आडवाणी के राष्ट्रपति बनने का सपना भी टूटा

Apr 19, 2017
बाबरी विध्वंस मामला : उमा भारती से छिन जायेगा मंत्रालय, आडवाणी के राष्ट्रपति बनने का सपना भी टूटा

इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) ने बाबरी मस्जिद मामले में लालकृष्ण आडवाणी और अन्य वरिष्ठ भाजपा नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश का मामला चलाने के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हुए कल्याण सिंह और उमा भारती के इस्तीफे की मांग की। आईयूएमएल के महासचिव और लोकसभा सदस्य ई.टी. मोहम्मद बशीर ने कहा कि शीर्ष न्यायालय का यह फैसला एक बड़ी राहत है।

केरल के पूर्व शिक्षा मंत्री ने कहा, “हालांकि यह फैसला देर से आया है, लेकिन आखिरकार यह आ गया और दो साल में मामले की सुनवाई पूरी करने के आदेश के साथ सशक्त रूप से आया है। साथ ही, इसमें अहम बात यह है कि भाजपा आडवाणी को राष्ट्रपति पद के लिए नामित कराने के बारे में सोच रही थी। हमारी मांग है कि कल्याण सिंह जो इस समय राज्यपाल हैं, उन्हें इस पद से जुड़े तकनीकी पहलुओं का हवाला नहीं देना चाहिए, बल्कि पद से इस्तीफा देकर मुकदमे का सामना करना चाहिए।”

बशीर ने कहा, “इसी तरह केंद्रीय मंत्री उमा भारती को भी बिना देर किए इस्तीफा दे देना चाहिए।”

इस मामले में मुरली मनोहर जोशी और विनय कटियार के खिलाफ भी मामला चलेगा।

न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष और न्यायमूर्ति रोहिंटन फली नरीमन की सदस्यता वाली सर्वोच्च न्यायालय की पीठ ने आपराधिक साजिश के मामले को बहाल करते हुए, साथ ही मामले को रायबरेली से लखनऊ स्थानांतरित कर दिया।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>