आजमगढ़ विवाद, अधिकारी घायल गिरफ्तार हुऐ बीजेपी के कई नेता-देखें वीडियो

May 16, 2016

आजमगढ़। होली के दौरान रंग फेंकने को लेकर दो गुटों में मामूली सा विवाद हुआ था। बात पुलिस तक पहुंची थी और मामला दब गया था, पर एकबार फिर इस छोटे से विवाद की आग सुलग गई है और आजमगढ़ जल उठा है। आजमगढ़ में हुए बवाल के बाद हुई हिंसा में सीओ, एसडीएम सहित कई लोग घायल हो गए हैं। उधर गोरखपुर से आ रही खबरों के मुताबिक पूर्व कैबिनेट मंत्री व भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष विधायक डॉ राधामोहन दास अग्रवाल को आजमगढ़ जाते समय पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष शिव प्रताप शुक्ल व उनके साथ गोरखपुर नगर के विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल, चिरंजीव चौरसिया आदि आजमगढ़ जा रहे थे, पर पुलिस ने उन्हें हिरासत में लेकर झंगहा थाने ले गई है। मौके पर सीओ कैंट सहित कई थानों की पुलिस पहुंच गई है।

आजमगढ़ बवाल पर एडीजी लॉ एंड आर्डर,आईजी क्राइम,आईजी एटीएस, आईजी वाराणसी,आईजी मिर्जापुर, इसके अलावा रैपिड एक्सन फ़ोर्स, पारा मिल्ट्री और 12कम्पनी पीएसी, कई जिलो की फ़ोर्स आज सरायमीर, संजरपुर, खुदाददपुर, फरिहा, फरीदाबाद में तैनात कर दी गई है। एडीजे के नेतृत्व में फ्लैग मार्च किया गया है। पुलिस ने अब तक 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। 21 नामजद व 200 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है। निजामाबाद और सरायमीर थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है।

एडीजे ने कहा है कि सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है। अफवाह फैलाने वाले चिह्नित होंगे और उनकी गिरफ्तारी होगी। 3 बजे गांव व आस-पास के लोगों के साथ बैठक होगी। बैठक में दोनों पक्ष से शान्ति की अपील की जाएगी।

उधर वाराणसी जोन के आईजी आजमगढ़ पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लेने के बाद घायल सीओ, एसडीएम से मिलने अस्पताल पहुंचे। आईजी ने कहा है कि दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।
गौरतलब है कि होली के समय हुए पुराने विवाद को लेकर लाठी-डंडा व हथियारों से लैस आजमगढ़ जिले के निजामाबाद क्षेत्र के खुदादादपुर, दाउदपुर तथा सरायमीर थाना क्षेत्र के संजरपुर के हजारों लोगों ने खुदादादपुर में विरोधी पक्ष के घर हमला बोल दिया था। उन्होंने वहां मौजूद लोगों के साथ न केवल मारपीट शुरू कर दी, बल्कि कई घरों को भी फूंक डाला।

सूचना मिलने पर आला अधिकारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और उपद्रव को शान्त कराने की कोशिश की जिसमें सीओ सिटी केके सरोज, एसडीएम निजामाबाद एके सिंह, तहसीलदार और कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए। उपद्रव के बाद वाराणसी जोन के आईजी एसके भगत आज आजमगढ़ पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लेने के बाद घायल अधिकारियों और पुलिसकर्मीयों से मिलकर उनका कुशलक्षेम पूछा।

आईजी ने कहा कि मुकदमा दर्ज किया जा रहा है और 2-3 दिनों के अन्दर उपद्रवियों को चिह्नित कर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। साथ ही अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

बता दें कि सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव का संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ पिछले 36 घंटों से हिंसा की आग में जल रहा है। जिले के आला अधिकारियों के बाद आईजी जोन ने हिंसाग्रस्त इलाकों की कमान अपने हाथों में ले ली है पर इसके बावजूद उपद्रवियों पर पूरी तरह काबू नहीं पाया जा सका है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>