मुंबई की रैली में असदुद्दीन ओवैसी पर जूते से किया गया हमला, तीन तलाक का कर रहे थे विरोध

Jan 24, 2018
मुंबई की रैली में असदुद्दीन ओवैसी पर जूते से किया गया हमला, तीन तलाक का कर रहे थे विरोध

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर एक रैली को संबोधित करने के दौरान जूता फेंक कर हमला किया गया। इस बारे में पुलिस ने बताया कि इस घटना में सांसद को जूता नहीं लगा। लेकिन आरोपी की पहचान कर ली गई है और उसे बहुत जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

बता दें कि (एआईएमआईएम) के चीफ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी मंगलवार को दक्षिण मुंबई के नागपाड़ा इलाके में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। रैली में वे तीन तलाक के विरोध में भाषण दे रहे थे और इसी बीच एक शख्स ने उन पर जूता फेंक दिया। उन्होंने कहा कि “मैं अपने लोकतांत्रिक अधिकार के लिए अपनी जान देने को तैयार हूं। ये सभी निराश लोग हैं जो यह नहीं देख सकते हैं कि तीन तलाक पर सरकार का फैसला जनता खासतौर पर मुसलमानों ने स्वीकार नहीं किया है।” उन्होंने कहा कि “ये लोग (जूता फेंकने वाले के संदर्भ में) उन लोगों में से हैं जो महात्मा गांधी, गोविंद पानसरे और नरेंद्र डाभोलकर के हत्यारों की विचारधारा का अनुसरण करते हैं।” आगे उन्होंने कहा कि “यह हमें उनके खिलाफ सच बोलने से नहीं रोक सकते हैं।”

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक: चलती ट्रेन में सोती हुई अभिनेत्री के साथ हुई छेड़छाड़, की गंदी हरकत

औवेसी ने आरोप लगाया है कि तीन तलाक विधेयक मुस्लिमों के खिलाफ एक साजिश है और समुदाय के पुरुषों को दंडित करने के लिए एक चाल है। उन्होंने कहा कि ‘पद्मावत’ फिल्म से जुड़े विवाद के मामले पर संसद की एक समिति ने विचार किया था लेकिन तीन तलाक के मुद्दे को लेकर ऐसा कोई कदम नहीं उठाया गया।

औवेसी पर जूता फेंक कर हमले के मामले में पुलिस ने बताया कि आरोपी गिरफ्त में नहीं आया है। लेकिन पुलिस के मुताबिक आरोपी की पहचान वहां लगे सीसीटीवी की मदद से कर ली गई है और बहुत जल्द ही उसे हिरासत में ले लिया जाएगा। इस मामले पर एआईएमआईएम विधायक इमतियाज़ जलील ने कहा कि “ओवैसी को जूता नहीं लगा और उन्होंने इस हमले की बिना परवाह किए अपना भाषण पूरा किया। हमें इस तरह की घटनाओं से फर्क नहीं पड़ता कुछ लोग और पार्टियां चाहती हैं कि हम सच न बोलें लेकिन हम इस तरह की घटनाओं को नजरअंदाज करते हैं।”

ये भी पढ़ें :-  शिवसेना नेता बोले- 'गुजरात चुनाव ट्रेलर था, राजस्थान उपचुनाव इंटरवल है, पूरी फिल्म 2019 में देखेंगे'
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>