आसाराम मामला: तीन प्रमुख गवाहों की हत्या करने निकला शूटर गिरफ्तार

Mar 15, 2016

गुजरात एटीएस ने आसाराम बापू के उस कथित शूटर को गिरफ्तार कर लिया है जो इस स्वयंभू बाबा के खिलाफ दर्ज बलात्कार के मामले में तीन प्रमुख गवाहों की गोली मारकर हत्या करने के मामले में संदिग्ध है.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एटीएस और नगर पुलिस की अपराध शाखा के एक संयुक्त अभियान में छत्तीसगढ़ के रायपुर से रविवार को कार्तिक हलदर को गिरफ्तार किया गया और सोमवार को उसे अहमदाबाद लाया गया.

संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) और एटीएस के प्रभारी आईजी जेके भट्ट ने बताया कि तीन गवाहों की हत्या करने के अलावा हलदर ने उन चार अन्य लोगों की भी जान लेने की कोशिश की थी जो जोधपुर और अहमदाबाद में धर्मगुरू के खिलाफ दर्ज बलात्कार के मामलों से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए थे.

फिलहाल आसाराम एक नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में जोधपुर जेल बंद है.

एटीएस ने एक बयान में बताया कि पूछताछ में हलदर ने अधिकारियों से कहा कि उसे आसाराम के अन्य साधकों ने इन गवाहों की हत्या करने का निर्देश दिया था ताकि विवादास्पद बाबा के खिलाफ मामले कमजोर हो सकें.

आसाराम के शार्प शूटर हलदर ने पुलिस को यह भी बताया कि उसे देश के विभिन्न हिस्सों में स्थित आसाराम के आश्रम के साधकों ने पैसे दिए थे.

वह आसाराम के निजी चिकित्सक अमृत प्रजापति की जून 2014 में, उनके सहयोगी सह रसोइये अखिल गुप्ता की जनवरी 2015 में और अन्य प्रमुख गवाह कृपाल सिंह की जुलाई 2015 में देश के विभिन्न हिस्सों में हत्या करने का आरोपी है.

इन हत्याओं के अलावा हलदर हत्या की कोशिश करने के चार अन्य मामलों में भी शामिल था. उसने अहमदाबाद में राजू चांडोक और लाल ठाकुर तथा मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में ओमप्रकाश और उनकी पत्नी पर हमला किया था. उसने एक अन्य साक्षी महेन्द्र चावला की भी हत्या का प्रयास किया था.

हलदर पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले का रहने वाला है.

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>