प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली में आर्टिफिशियल बारिश कराएंगे केजरीवाल

Nov 07, 2016
प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली में आर्टिफिशियल बारिश कराएंगे केजरीवाल

दिल्ली को प्रदूषण से निजात दिलाने के लिए केजरीवाल सरकार ऐतिहासिक फैसला लेने जा रही है। पहली बार दिल्ली में बिना बादलों के बारिश होगी। आर्टिफिशियल तरीके से। मशीनों के जरिए आसमान से प्रमुख इलाकों में पानी बरसाया जाएगा। यह बारिश वैज्ञानिक विधि से होती है। रविवार को मुख्यमंत्री केजरीवाल की ओर से हुई आपातकालीन मीटिंग में जब यह सुझाव आया तो केजरीवाल ने केंद्र सरकार की अनुमति लेकर आर्टिफिशियल बारिश का विकल्प आजमाने की बात कही। ताकि बारिश से कुछ हद तक स्माग कम हो सके।

17 साल में पहली बार  इतना प्रदूषण

 मौसम विज्ञानियों की मानें तो राजधानी दिल्ली में पिछले 17 साल में पहली बार धुंध और प्रदूषण से इतना स्मॉग छाया है। सांस लेना दूभर होने के बाद जब दिल्ली की सड़कों पर लोग मॉस्क लगाकर टहलने लगे तो दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाकर आम जन की सेहत की हिफाजत के लिए कुल 10 कदम उठाने की तैयारी की है। माना जा रहा है कि इससे एक हद तक प्रदूषण से लोगों का बचाव हो सकेगा। सरकारी सूत्रों की मानें तो दिल्ली सरकार वाहनों के प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए पूर्व में सफल रही ऑड-ईवन स्कीम फिर से लागू करने पर विचार कर रही है।
विशेषज्ञों की सलाह पर केजरीवाल के ये 10 कदम
1-बदरपुर प्लांट अगले दस दिनों के लिए ठप रहेगा। राख की उठान भी नहीं होगी।
2-सड़कों पर सोमवार से पानी का छिड़काव होगा
3-पांच दिन तक दिल्ली में सभी प्रकार के निर्माण कार्य बंद करने का आदेश जारी
4-दिल्ली की हर सड़क सप्ताह में कम से कम एक बार जरूर साफ होगी। वैक्यूम क्लीनिंग 10 नवंबर से शुरू होगी
5-तीन दिन तक सभी प्रकार के स्कूल बंद रहेंगे।
6-केंद्र सरकार की अनुमति से आर्टिफिशियल बारिश करने की तैयारी
7-ऑड-ईवन फिर से लागू करने की तैयारी
8-पत्ते और कूड़े जलाने पर तत्काल प्रभाव से रोक, पकड़े जाने पर होगी कार्रवाई
9-लोगों से अपील कि बहुत जरूरत होने पर ही काम के लिए बाहर से निकलें, अधिकांश कार्य घर
10- दिल्ली नगर निगमों की लैंड फील्ड साइट से निकलने वाले धुओं से निपटने के लिए भी निर्देश दिए गए है।
दिल्ली में कितना बढ़ा प्रदूषण
दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण कमेटी की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में पिछले 17 साल में पहली बार इतना प्रदूषण नजर आ रहा है। रविवार दोपहर को IGI एयरपोर्ट में प्रदूषण का स्तर PM10- 989 और PM2.5- 375 माइक्रोग्राम/ क्यूबिक मीटर रिकॉर्ड किया गया। वहीं आनंद विहार में PM10- 1635 और PM2.5- 813, पंजाबी बाग में PM10- 1394 और PM2.5- 792। इसी तरह दिल्ली के अन्य इलाकों में भी मानक 2.5 पीएम से 12 गुना ज्यादा रिकॉर्ड हुआ।
 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
ये भी पढ़ें :-  हिन्दू धर्म में आया जूतामार आंदोलन का समय- पढ़े पूरी ख़बर
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected