किसी एक व्यक्ति को नहीं पूरे ‘मुस्लिम’ समुदाय को धमकाया है रक्षा मंत्री ने: ग़ुलाम नबी

Aug 02, 2016
नई दिल्ली। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के एक बयान को लेकर सोमवार को राज्यसभा में काफ़ी हंगामा हुआ है।कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने पर्रिकर के बयान की आलोचना करते हुए कहा है कि नेताओं को विशेष रूप से मंत्रियों को इस प्रकार के बयानों से बचना चाहिए और देश में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा सुनिश्चित होनी चाहिए।
उल्लेखनीय है कि भारत के रक्षा मंत्री पर्रिकर ने पुणे में 30 जुलाई को एक कार्यक्रम में प्रसिद्ध अभिनेता आमिर ख़ान की ओर संकेत करते हुए एक विवादास्पद टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि देश के खिलाफ़ बोलने वाले किसी भी व्यक्ति को सबक़ सिखाया जाना चाहिए, जैसे कि एक अभिनेता और एक ऑन लाइन ट्रेडिंग कंपनी को सिखाया गया था।
जनता दल यूनाइटेड के नेता शरद यादव ने इस बयान की आलोचना करते हुए सदन में कहा यह किसी एक व्यक्ति को नहीं, बल्कि पूरे समुदाय को धमकाने की बात है। पर्रिकर देश के रक्षा मंत्री है, इस तरह के बयान से वह किसकी रक्षा कर रहे हैं। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने पर्रिकर के बयान की आलोचना करते हुए उनसे पूछा, क्या कल को आप हमें भी सामाजिक बहिष्कार की धमकी देंगे। यह रक्षा मंत्री होते हुए भी देश में असुरक्षा फैला रहे हैं।
बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती का कहना था कि जब से केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी है देश में मुसलमानों और दलितों को निशाना बनाया जा रहा है।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>