अमित शाह को खाना खिलाने वाला जनजातीय परिवार झटका देते हुये TMC में शामिल

May 03, 2017
अमित शाह को खाना खिलाने वाला जनजातीय परिवार झटका देते हुये TMC में शामिल

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के भोज की मेजबानी करने के कुछ दिनों बाद जनजातीय दंपति- राजू और गीता महाली- पश्चिम बंगाल के सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में बुधवार को शामिल हो गए। तृणमूल की दार्जिलिंग इकाई के अध्यक्ष और राज्य के पर्यटन मंत्री गौतम देब ने कहा कि वे अपनी मर्जी से पार्टी में शामिल हुए हैं, लेकिन भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोप लगाया है कि दंपति को मजबूर किया गया।

महाली दंपति की तरफ से लिखा हुआ एक नोट पढ़ते हुए देब ने कहा, “ममता बनर्जी की अगुवाई वाले राज्य सरकार के विकास कार्य से सहमत होकर हम अपनी मर्जी और पसंद से तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए हैं।”

देब के दावे को खारिज करते हुए घोष ने कहा, “जनजातीय दंपति को धमकी दी गई। स्थानीय तृणमूल नेताओं ने उन पर सत्तारूढ़ दल के नेताओं को घर पर बुलाने का दबाव बनाया।”

उन्होंने कहा, “वे बीते कुछ दिनों से लापता थे। हमने गुमशुदी की एक शिकायत दर्ज कराई थी। दंपति अपनी मर्जी से तृणमूल में शामिल नहीं हुए, उन्हें बाध्य किया गया।”

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भाजपा का आधार बढ़ाने के क्रम में अपनी ‘विस्तार यात्रा’ के पहले चरण में जनजातीय दिहाड़ी मजदूर राजू महाली के घर भोजन किया था। वह घरों और इमारतों की रंगाई कर अपनी जीविका चलाता है।

शाह ने पश्चिम बंगाल के नक्सबाड़ी ब्लॉक के दक्षिण कातिकाजोते गांव में जमीन पर बैठ कर महाली के घर खाना खाया था। महाली की पत्नी ने शाह को केले के पत्ते पर शाकाहारी भोजन परोसा था।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>