राहुल गाँधी पर अमेठी की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार करने का आरोप

Sep 02, 2016
राहुल गाँधी पर अमेठी की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार करने का आरोप

वैसे तो सोनिया गाँधी और राहुल गांधी के साथ साथ पूरे गाँधी परिवार पर ही घोटालों की खबर आपने सुनी ही होंगी, पर इस परिवार के एक सदस्य पर ऐसा आरोप भी लग चुका है, जिसके बारे में आप शायद ही जानते हों l ये सदस्य और कोई नहीं बल्कि खुद कांग्रेस पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गाँधी हैं जिनपर दिसंबर 2006 में अमेठी की एक लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार करने का आरोप लगा हैं.

यह बात 3 दिसंबर 2006 की है जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, उस दिन राहुल गाँधी अपने 7 दोस्तों (जिनमें 4 विदेशी भी थे) के साथ अपने अमेठी वाले घर सिक्योरिटी जोन में स्थित एक गेस्ट हाउस में शराब पीने में लगे थे. तभी वहां पार्टी कार्यकर्ता बलराम सिंह की 24 साल की लड़की सुकन्या सिंह पहुंची जो एक पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते काफी वक़्त से राहुल गाँधी से मिलने की मांग कर रही थी.

सुकन्या को इसी वक़्त बुलाया गया और कुछ देर यूँही बातें करने के बाद राहुल ने उसे अपने दोस्तों के साथ बैठा लिया. यही नहीं, उसके मना करने के बावजूद भी सुकन्या को ज़बरदस्ती शराब भी पिलाई गई और घर नहीं जाने दिया. इसके बाद उन सभी ने सुकन्या के साथ बारी बारी से बलात्कार भी किया. वह चिल्लाती रही पर कोई मदद को नहीं आया,और तो और, मुंह बंद रखने के लिए उसे 50,000 रूपये का लालच भी दिया.

रोती-बिलखती सुकन्या वहां से सीधा पुलिस स्टेशन पहुंची पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने राहुल गाँधी का नाम सुन केस दर्ज करने से मना कर दिया. पुलिस से सूचना मिलने के बाद कांग्रेस के कार्यकर्ता सीधा सुकन्या के घर जा पहुंचे और उल्टा उसी के चरित्र को खराब बता सारा इलज़ाम उसी के सिर लगा दिया. फिर क्या था, बलराम सिंह ने अपनी बेटी की तो एक न सुनी और उसे बुरी तरह पीट दिया, हालांकि बाद में बलराम को सुरक्षा कर्मियों द्वारा वास्तविकता पता भी चली, पर फिर भी उन्होंने चुप्पी बनाये रखी.

सुकन्या की माँ सुमित्रा देवी हिम्मत कर अमेठी पुलिस मुख्यालय भी जा पहुंची पर वहां भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी l  सब गाँधी परिवार का प्रभुत्व की वजह से चुप ही रहे l सुमित्रा देवी द्वारा एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाई गई जिसमें बहुत कम पत्रकार आये और कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं ने वो प्रेस कॉन्फ्रेंस भी बीच में ही रुकवा माँ बेटी को गन्दी गन्दी गालियां दे बेइज़्ज़त भी किया. सुमित्रा देवी ने सोनिया गाँधी से भी मिलने का वक़्त माँगा पर सोनिया ने भी मिलने से इंकार कर दिया l पीड़िता की माँ ने तो मानवाधिकार आयोग तक भी पहुंची पर उन्होंने भी सिर्फ शिकायत दर्ज़ कर उन्हें जाने को बोल दिया l कांग्रेस पार्टी के बड़े नेता परिवार से मिले और उन्हें मीडिया में ये बात पहुंचाने पर जान से मारने की धमकी भी दी l और जिन मीडिया हाउस को यह ख़बर पता भी लगी तो मुंहमांगी कीमत देकर, उन्हें ही चुप करा दिया गया.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>