अमरनाथ: बस ड्राइवर की हिम्मत से बची 50 लोगों की जान, वीरता पुरस्कार के लिए नामित होगा नाम

Jul 11, 2017
अमरनाथ: बस ड्राइवर की हिम्मत से बची 50 लोगों की जान, वीरता पुरस्कार के लिए नामित होगा नाम

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवादियों के हमले के बीच बहादुरी दिखाकर कई जिंदगियां बचाने वाले अमरनाथ यात्रियों के बस चालक का नाम वीरता पुरस्कार के लिए नामित करने का फैसला किया है। रूपानी ने हवाईअड्डे पर संवाददाताओं को बताया, “हम उस बस चालक का आभार जताते हैं, जिन्होंने भारी गोलीबारी के बीच कई जिंदगियां बचाईं। गुजरात सरकार वीरता पुरस्कार के लिए सलीम का नाम केंद्र सरकार के पास भेजेगी।”

वह हमले में जान गंवाने वाले श्रद्धालुओं के शव लेने यहां पहुंचे थे।

जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग जिले में सोमवार शाम को अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर किए गए हमले में सात लोगों की मौत हो गई, जबकि 19 अन्य घायल हो गए।

ये भी पढ़ें :-  उत्तर प्रदेश में मरीज़ों के बिस्तर पर सफ़ेद चादर के बजाए भगवा रंग

सलीम ने संवाददाताओं को बताया कि भगवान ने उसे गोलीबारी के बीच बस चलाते रहने की शक्ति दी।

उन्होंने कहा, “सभी तरफ से गोलीबारी हो रही थी लेकिन मैं बस चलाता रहा और नहीं रूका। भगवान ने मुझे आगे बढ़ते रहने की हिम्मत दी। मैं कहीं भी नहीं रुका।”

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>