भष्टाचार के एक आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री मोदी के ख़िलाफ़ रोकी कार्यवाही

Dec 16, 2016
भष्टाचार के एक आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री मोदी के ख़िलाफ़ रोकी कार्यवाही

सुप्रीम कोर्ट में एक एनजीओ ने भ्रष्टाचार का मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ दायर किया था। लेकिन अदालत ने 14 दिन के भीतर सबूत पेश नहीं कर पाने पर सुप्रीम कोर्ट ने पूरी कार्यवाही पर रोक लगा दी। सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि कोई भी संवैधानिक अधिकारियों के ख़िलाफ़ अगर क़ानून के उल्लंघन का मामला आता है तो देश की अदालत उस मामले को ज़्यादा दिनों तक न्यायलय में नहीं रोकेगी और उस पर तुरंत कार्यवाही की जाएगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री मोदी के ख़िलाफ़ भ्रष्टाचार के एक मामले में सबूत पेश करने के लिए और 20 दिन की मोहलत देने से इनकार कर दिया है। एनजीओ द्वारा भ्रष्टाचार के मामले में दायर याचिका में सुप्रीम कोर्ट पहले ही 14 दिन की मोहलत दे चुकी थी। एनजीओ द्वारा 20 दिनों की और मोहलत मागने पर अदालत ने पूरी कार्यवाही पर रोक लगा दी।

ये भी पढ़ें :-  सपा नेता का योगी सरकार पर निशाना- कहा, RSS के एजेंडे पर काम कर रही है सरकार
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>