अखलाक हत्याकांड में आरोपी के शव पर गांव वालो ने रखा तिरंगा, नया विवाद शुरू

Oct 07, 2016
अखलाक हत्याकांड में आरोपी के शव पर गांव वालो ने रखा तिरंगा, नया विवाद शुरू

अखलाक हत्याकांड में नामजद रहे रवि सिसोदिया की मौत मंगलवार को किडनी और श्वसन तंत्र फेल हो जाने से हो गई थी। लेकिन आरोपी के शव पर तिरंगा रख कर एक नया विवाद खड़ा कर दिया है। वही सोशल मीडिया पर सभी लोग इस बात से नाराज है की इस तरह तिरंगे का अपमान देश के लिए सही नही है। जो तिरंगा हमारे देश के शहीदों के शवों पर रखा जाता है जिसका मतलब यह होता है की देश के उस सैनिक ने अपनी जान नौछावर कर देश की रक्षा में अपनी जान दे दी।
उत्तर प्रदेश में ग्रेटर नोएडा के दादरी इलाके के बिसाहड़ा गांव में तनाव बरकरार है। इस बीच ग्रामीणों ने रवि सिसोदिया का अंतिम संस्कार गुरुवार को भी नहीं होने दिया। ग्रामीणों ने रवि को शहीद करार देते हुए उसके शव पर तिरंगा रख दिया और सरकार से एक करोड़ रुपये के मुआवजा देने की मांग की है। उधर गांव के हजारों लोग धरने पर बैठ गए। जिसमे आरोप ये लगाया गया है की रवि और उसके साथ तीन और आरोपियों की जेल की पिटाई की गई है, जिसके बाद रवि को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हो गई। इसपर जेल प्रशासन का कहना है कि रवि फेफड़े के इन्फेंक्शन से पीड़ित था लेकिन पूरी रिपोर्ट आने के बाद ही इस बारे में कुछ बताया जा सकेगा। और साथ ही साथ अखलाक हत्याकांड में नामजद सभी 17 लोगों को तुरंत रिहा करने की मांग कर रहे है।

इसी कांड में नामजद में नामजद रहे 22 वर्षीय रवि सिसोदिया की मौत मंगलवार को किडनी और श्वसन तंत्र फेल हो जाने से हो गई थी। बीमारी के बाद पहले उसे नोएडा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश (एलएनजेपी) अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>