योगी के एक्शन में आने के बाद, मथुरा सर्राफा लूट व हत्याकांड का हुआ खुलासा, 6 गिरफ्तार

May 20, 2017
योगी के एक्शन में आने के बाद, मथुरा सर्राफा लूट व हत्याकांड का हुआ खुलासा, 6 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश की मथुरा पुलिस ने पांच दिन बाद सर्राफा लूट व हत्याकांड का खुलासा करते हुए छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। शनिवार तड़के मुठभेड़ के बाद इन्हें गिरफ्तार किया गया। मुठभेड़ में गोली लगने से दो आरोपी घायल हो गए और सात पुलिसकर्मी चोटिल हो गए।

पुलिस ने बताया कि शनिवार को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार बदमाशों में राकेश उर्फ रंगा, कामेश उर्फ चीना, आयुष, छोटू, नीरज और आदित्य शामिल है। नीरज के पेट और पीठ में गोली लगी है, जबकि रंगा के पैर में गोली लगी है। मुठभेड़ में घायल नीरज को आगरा रेफर कर दिया गया है।

बीती 15 मई को मथुरा के होली गेट स्थित मयंक चेन्स नाम की ज्वैलर्स की दुकान में ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर दो सर्राफा व्यवसायियों मेघ अग्रवाल और विकास अग्रवाल की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद आरोपी चैबियापाड़ा की ओर भागते हुए फरार हो गए थे। तब से सर्राफा व्यवसायी और पीड़ितों के घरवाले आंदोलन कर रहे थे।

ये भी पढ़ें :-  डॉक्टर ने बेटे के जन्मदिन पर हॉस्पिटल में सजाई ‘महफिल’, वॉर्ड में ताला लगाकर झूमता रहा स्टाफ

मुख्यमंत्री योगी के प्रतिनिधि के रूप में ऊर्जा मंत्री और स्थानीय विधायक श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह ने भी मथुरा का दौरा किया था और पीड़ितों के घरवालों से मुलाकात की थी। शुक्रवार को प्रदेशव्यापी सर्राफा बंदी भी थी।

पुलिस ने बताया कि शनिवार तड़के साढ़े पांच बजे पुलिस ने इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को चौबियापाड़ा के हनुमान गली में हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। सभी आरोपी वारदात के बाद चौबियापाड़ा में छिपे हुए थे। पुलिस ने इन्हें दोनों तरफ से करीब 15 मिनट तक हुई फायरिंग के बाद पकड़ा। मुठभेड़ में नीरज के पेट व पीठ में गोली लगी, जबकि रंगा के मकान से कूदते समय पैर में पुलिस की गोली लगी, जिससे रंगा गिर पड़ा। इसके बाद गैंग ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया।

ये भी पढ़ें :-  पांचवी के छात्र ने की ख़ुदकुशी- सुसाइट नोट में लिखा- "मैम इतनी बड़ी सज़ा किसी को न दें"

पुलिस ने बताया कि आरोपी रंगा बिल्ला गैंग का है। बिल्ला पहले ही एक हत्या के मामले में जेल जा चुका है। पुलिस के मुताबिक, जो लोग पकड़े गए हैं, ये सभी घटना के वक्त सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे थे।

एसएसपी विनोद मिश्रा ने बताया, “शनिवार को तड़के पांच बजे आरोपियों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में सात पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं। वहीं दो आरोपी भी गोली लगने से घायल हुए हैं। पकड़े गए छह आरोपियों में से रंगा, चीना और नीरज तीनों भाई हैं। रंगा और नीरज के ऊपर एक कत्ल के मुकदमे में पहले से ही पांच-पांच हजार रुपये का इनाम था और तीन साल से ये फरार चल रहे थे।”

ये भी पढ़ें :-  अब रेप आरोपी 'फलाहारी बाबा' ने चली आसाराम की चाल, बताया खुद को 'नामर्द'

एसएसपी विनोद मिश्रा के मुताबिक इन्हें मथुरा के होली गेट इलाके के पास चौबियापाड़ा मोहल्ले में इनके घर से पकड़ा गया है। पुलिस ने तीन दिन पहले राकेश उर्फ रंगा की पत्नी नाम सोना से मिली जानकारी पर सभी आरोपियों को पकड़ा है।

गिरफ्तार मुख्य आरोपी राकेश उर्फ रंगा ने बताया कि घटना को अंजाम देने वाले बदमाश घटना के पांच दिन पहले से ही घटना के समय को ध्यान में रख रोजाना शाम पांच से सात बजे तक लगातार रेकी करते थे। पुलिस फिलहाल आरोपियों से गहन पूछताछ कर रही है। घटना के दौरान लूटा गया कुछ माल बरामद कर लिया गया है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>