भाजपा के सत्ता में आने के बाद बढ़ गया बीफ कारोबार, बैन लगाने के झूठे निकले सारे वादे…

Sep 29, 2017
भाजपा के सत्ता में आने के बाद बढ़ गया बीफ कारोबार, बैन लगाने के झूठे निकले सारे वादे…

देश में भाजपा की सरकार बनने के बाद मुस्लिमों और दलितों के खिलाफ हिंसक घटनाए लगातार बढ़ती चली गईं। दूसरी तरफ सरकार ने भी देश में गौ हत्या को रोकने के बड़े बड़े दावे करती रही, जो सिर्फ दावे ही साबित हुए। लेकिन आपको ये रिपोर्ट जान कर है हैरानी होगी कि भाजपा के आने के बाद बीफ कारोबार बढ़ गया है।

बता दें कि ओईसीडी की रिपोर्ट के अनुसार भारत में जहाँ पिछले साल 16 लाख टनबीफ निर्यात किया था। वहीँ इस साल ये बढ़कर 20 लाख टन बीफ निर्यात किया गया है। जहाँ भारत ने इस साल म्यांमार से जानवरों को आयत किया है। ओईसीडी रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि पिछले साल 363000 टन बीफ निर्यात किया गया था। लेकिन इस रिपोर्ट में बीफ के प्रकार की कोई बात नहीं कही गई है।

अगर मीडिया रिपोर्ट की मानें तो आपको हैरानी होगी कि देश की पांच सबसे बढ़ी बीफ कंपनियों के मालिक कोई मुस्लिम नहीं बल्कि हिन्दू हैं। इस लिस्ट में अल कबीर का नाम सबसे पहले नंबर पर है। जिसके मालिक कोई मुस्लिम नहीं बल्कि सतीश ओर अतुल साभारवाल हैं। इसके बाद अरेबियन एक्सपोर्ट (सुनील कर्ण) एम् के फ्रोज़न फ़ूड (बिंद्रा) आता है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>