3 तलाक के फैसले के बाद मुस्लिम महिला ने की शिव की पूजा

Aug 24, 2017
3 तलाक के फैसले के बाद मुस्लिम महिला ने की शिव की पूजा

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ जाने के बाद हर तरफ इस का जश्न मनाया जा रहा है। और ऐसा कहा जा रहा है कि ये दिन मु्स्लिम महिलाओं के लिए आजादी का दिन बन दिया गया।

बता दें कि 22 अगस्त 2017 के दिन तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है। लेकिन फैसले से पहले पूरे देशभर की मुस्लिम महिलाओं में बेचौनी थी। सबको इस फैसले का इन्तिज़ार था। कोई सारी महिलायें टीवी के सामने चिपक कर बैठीं इस फैसले का इन्तिज़ार कर रही थीं। और जब 22 अगस्त के दिन सुप्रीम कोर्ट का फैसला सामने आये तो बहुत सारी महिलाओं ने इस ख़ुशी में मिठाई बांटी, और पटाखे जला कर इस फैसले का स्वागत किया। लेकिन इतना ही नहीं कुछ मुस्लिम महिलाओं ने यहाँ तक कहा कि ‘भगवान ने दे ही दी हमें आजादी।’

ये भी पढ़ें :-  गौरी लंकेश की हत्या पर खुश होने वाले लोग अब रोहिंग्या मुसलमानों की हत्या पर भी खुश हैं: अलका लांबा

ऐसा कहा जा रहा है कि 22 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीन तलाक पर ऐतिहासिक फैसला देने के एक दिन पहले, तीन तलाक खत्म हो सके इसके लिए मुस्लिम महिलाओं ने 108 बार ‘हनुमान चालीसा’ का भी उच्चारण भी किया। अगर मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ‘तीन तलाक के संकट से आज़ादी के लिए मुस्लिम महिला फाउंडेशन की नेशनल सदर नाजनीन अंसारी ने भगवान श्रीराम की आरती भी की। इतना ही नहीं फैसला पक्ष में आने के बाद मुस्लिम महिलाओं ने ‘भगवान राम’ की आरती की और भजन भी गाया।’

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>