पिता के बाद 14 साल के बेटे ने भी की ख़ुदकुशी, फीस के लिए टीचर करते थे परेशान

Sep 19, 2017
पिता के बाद 14 साल के बेटे ने भी की ख़ुदकुशी, फीस के लिए टीचर करते थे परेशान

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में एक बहुत ही दर्दनाक खबर सामने आई है जहाँ पर एक बच्चे ने सिर्फ इस लिए ख़ुदकुशी कर ली क्योंकि वो स्कूल की फीस नहीं दे पा रहा था। जिसके लिए स्कूल वाले उसको डांटते और फटकारते रहते थे। आखिरकार उसने इन लोगों से परेशान होकर पेड़ से फांसी का फंदा लटकाकर उसने अपनी जान दे दी। पुलिस ने स्कूल के मैनेजर और स्टाफ के खिलाफ बच्चे को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया है।

बता दें कि बच्चे की आत्महत्या का मामला उत्तर प्रदेश में पीलीभीत के मौरनिया गांधीनगर गांव का है। जहाँ 14 साल का रॉबिन अपनी बहन के साथ यहां के अमन चिल्ड्रन स्कूल में पड़ता था। रॉबिन की मां लता उसी गांव के प्राइमरी स्कूल में रसोइया का काम करती हैं। पांच साल पहले ही रॉबिन के पिता ने गरीबी और तंगहाली से परेशान होकर आत्महत्या कर लिया था। रॉबिन की मां रसोइया का काम करके डेढ़ हजार रुपये महीना कमाती हैं। जबकि इनके दोनों बच्चों की स्कूल फीस 340 रुपये महीना है। जो पिछले 6 महीने से वह स्कूल में जमा नहीं कर पाई थीं।

ये भी पढ़ें :-  ये क्या.......? बिहार शिक्षा विभाग के प्रश्नपत्र में कश्मीर अलग 'देश'!

मिली जानकारी के मुताबिक रॉबिन और उसकी बहन डांट पड़ने के डर से तीन दिन से स्कूल नहीं जा रहे थे। सोमवार को सुबह जब रॉबिन की मां ने बच्चों से स्कूल जाने के लिए कहा तो रॉबिन ने स्कूल जाने से मना करते हुए कहा कि सर स्कूल फीस के लिए बहुत परेशान करते हैं। जिसके बाद उसकी मां ने कहा कि वह अपने काम से लौटकर उसके स्कूल आएगी और कुछ पैसा वहां जमा कर देगी। जिसके बाद दोनों भाई-बहन घर से स्कूल की तरफ निकल गए। बहन स्कूल पहुंच गई, लेकिन रॉबिन स्कूल नहीं पहुंचा। जब उसकी मां घर के बाहर निकली तो उसने देखा कि घर के बगल में लगे लिची के पेड़ से रॉबिन ने फांसी के फंदे में लटक कर अपनी जान दे चुका है। बेटे को इस हाल में देख उसको कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था। दूसरी तरफ कम पढ़ी लिखी होने की वजह से उसने इस बारे में पुलिस से भी संपर्क नहीं किया, और अपने बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया। इस बात की सूचना पुलिस को तब मिली जब आस पड़ोस वालों ने उनको खबर दी। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। जो अभी तक स्कूल बंद करके फरार हैं।

ये भी पढ़ें :-  राज बब्बर का CM योगी आदित्यनाथ पर वार- कहा, या तो योगी हैं या मनोरोगी हैं
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>