आदित्य बिड़ला ग्रुप के अध्यक्ष शुभेंदु अमिताभ के ईमेल से घूसखोरी में फंसे नरेंद्र मोदी

Nov 16, 2016
आदित्य बिड़ला ग्रुप के अध्यक्ष शुभेंदु अमिताभ के ईमेल से घूसखोरी में फंसे नरेंद्र मोदी

मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भ्रष्टाचार का बड़ा आरोप लगाया। केजरीवाल ने कहा कि जो खुद रिश्वतखोरी डूबा है। वह भ्रष्टाचार मिटाने की बात कर रहा है। वह केवल देश की जनता को गुमराह कर रहा है। केजरीवाल ने विधानसभा में नरेंद्र मोदी के ऊपर आरोप लगाया की मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने “आदित्य बिड़ला ग्रुप” से 25 करोड़ रुपये रिश्वत के रूप में लिए थे। केजरीवाल ने आयकर विभागो के दस्तावेजो के आधार पर कहा कि 15 अक्टूबर 2013 को आयकर विभाग ने शुभेंदु अमिताभ के घर रेड की। शुभेंदु अमिताभ उस वक़्त आदित्य बिड़ला ग्रुप के अध्यक्ष थे। शुभेंदु अमिताभ का ब्लैकबेरी फोन, लैपटॉप और हर चीज पूरी तरह से चेक की गई। उनके लैपटॉप में 16 नवंबर 2012 की तारीख में एक लेजर इंट्री मिली जिसें लिखा था गुजरात मुख्यमंत्री को 25 करोड़ रुपए दिए गए।

 

केजरीवाल ने आगे कहा की 2013 में आयकर विभाग ने आदित्य बिड़ला ग्रुप के दफ्तरों में छापेमारी की थी। जिसमे दफ्तरों से 25 करोड़ रुपये बरामद हुए थे। अधिकारियों ने दस्तावेज, खाता-बही, कंप्यूटर रिकॉर्ड और कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी का लैपटॉप जब्त किया था जिसमें गुजरात के मुख्यमंत्री-25 करोड़ (12 करोड़ Done, बाकी शेष)। केजरीवाल ने दावा किया, यह स्पष्ट रूप से उस ओर इशारा करता है कि गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री को 12 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया। जिसमे बाकी शेष रह गए थे। केजरीवाल ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से इस मामले में HC की निगरानी में जांच का आदेश देने का अनुरोध किया। विधानसभा ने इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया।

वही केजरीवाल ने सरकार के प्रस्ताव में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से अनुरोध किया कि वह केंद्र सरकार को नोटबंदी की कठोर पहल को तुरंत वापस लेने का निर्देश दें।

हालाँकि इस सम्बंध में बिरला ग्रुप ने मामला अदालत में विचाराधीन होने की बात कहकर कोई टिप्‍पणी की।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>