अभिनेत्री बोलीं- यौन शोषण के लिए महिलाऐं भी जिम्मेदार हैं, ट्रोलर्स पड़ गए पीछे?

Oct 21, 2017
अभिनेत्री बोलीं- यौन शोषण के लिए महिलाऐं भी जिम्मेदार हैं, ट्रोलर्स पड़ गए पीछे?

यौन उत्पीड़न के मुद्दे पर दुनियाभर की फिल्म ए‍क्ट्रेसेस अपनी राय दे रही हैं। इसके लिए #metoo नाम से सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाया जा रहा है। इससे तीन हजार से ज्यादा लोग जुड़े चुके हैं। इस में तमाम सितारों से लेकर आम लोग भी शामिल हैं। जहाँ एक तरफ आम लड़कियां हैं, तो उत्पीड़न का शिकार हुए आम लड़के भी शामिल हैं।

भारतीय अभिनेत्री टिस्का चोपड़ा ने भी इस बारे में एक ट्वीट किया, लेकिन इसमें उन्होंने कुछ ऐसा लिखा कि ट्रोलर्स ने उनकी जमकर क्लास लगा दी। उन्होंने यौन उत्पीड़न के मामले में आरोपी के साथ-साथ ही पीड़िता को भी जिम्मेदार ठहराया है। जिस की वजह से उनको लोगों के गुस्से का शिकार बनना पड़ा है।

दरअसल, अभिनेत्री टिस्का ने एक ट्वीट में लिखा था कि, ‘एक अस्थायी न, विन्रम न और न का मतलब ‘आशंका’ हो सकती है। एक खराब न का अर्थ हां है। मुझ पर थोड़ा और जोर दो मैं मान जाऊंगी।’ टिस्का ने ऐसे मामले में यौन उत्पीड़न के हमलावर के साथ पीडि़ता को भी आरोपी बताते हुए लिखा कि ‘यह महिलाएं होटल के कमरों में क्यों जाती हैं? इन्हें खुद की सुरक्षा का ख्याल नहीं?’

टिस्का की इस राय के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने उनको जमकर कोसा। एक यूजर ने कहा, सुरक्ष‍ित जगह कहां है? ऑफिस में?, कार में? या घर में? उत्पीड़न क‍हीं भी हो सकता है। एक ने लिखा कि ‘मैडम ये आम जिंदगी है, बॉलीवुड नहीं। आम लोगों पर आम बॉलीवुडिया जिंदगी न थोपें।’

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये मामला हॉलीवुड डायरेक्टर हार्वी विंस्टीन से शुरू हुआ था, जिन पर 40 अभिनेत्रिओं ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। ये कोई पहला मौका नहीं है जब टिस्का ने अपनी कोई राय दी हो इस पहले भी वो कास्ट‍िंग काउच पर अपनी राय दे चुकी हैं। 2015 में कल्कि कोचलिन ने कास्टिंग काउच की बात को स्वीकार करते हुए कहा कि मुझे इसका शिकार बनाने की कोशिश की गई थी। लेकिन मुझे असहज लगा और मैं वहां से भाग निकली थी।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>