अभिनेत्री स्वरा भास्कर का भंसाली को खुला पत्र, कहा-‘स्त्रियों की दिखाई गई छवि से हैं आहत’

Jan 29, 2018
अभिनेत्री स्वरा भास्कर का भंसाली को खुला पत्र, कहा-‘स्त्रियों की दिखाई गई छवि से हैं आहत’

25 जनवरी को रिलीज हुई बॉलीवुड की विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ बॉक्स ऑफिस पर शानदार कमाई कर रही है लेकिन बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने इस फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अभिनेत्री ने आरोप लगाया कि इस फिल्म में सती और जौहर प्रथा का महिमामंडन किया गया है।

बता दें कि बॉलीवुड के मशहूर निर्देशक संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ की जमकर तारीफ हो रही है। वहीं, अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने ‘पद्मावत’ देखने के बाद बेहद तीखा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि, “फिल्म देखने के बाद मैं खुद को योनि मात्र महसूस कर रही हूं।” अभिनेत्री ने फिल्म के डायरेक्टर को खुला पत्र लिखकर सती प्रथा और जौहर जैसी कुरीतियों का गुण गान करने का आरोप लगाया। उन्होंने भंसाली से कहा कि वह उनकी ‘पद्मावत’ को लेकर काफी उत्साहित थीं। हालांकि उन्हें थोड़ी सी निराशा भी थी क्योंकि कुछ बाहरी लोगों के जोर के चलते भंसाली जी ने अपने फिल्म को ‘पद्मावती’ से कर दिया, अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की कमर ढक दी और फिल्म के कुछ 70 शॉट भी काट दिए।


अभिनेत्री स्वरा ने फिल्म की कहानी नारी की अस्मिता को लेकर जो संदेश दे रही है, उस ओर इशारा करते हुए उन्होंने लिखा कि, “आपकी महान रचना के अंत में मुझे यही लगा कि मैं एक योनि हूं। मुझे लगा कि मैं योनि तक सीमित होकर रह गई हूं। मुझे ऐसा लगा कि महिलाओं और महिला आंदोलनों को वर्षो बाद जो सभी छोटी उपलब्धियां, जैसे मतदान का अधिकार, संपत्ति का अधिकार, शिक्षा का अधिकार, ‘समान काम समान वेतन’ का अधिकार, मातृत्व अवकाश, विशाखा आदेश का मामला, बच्चा गोद लेने का अधिकार मिले। सभी तर्कहीन थे। क्योंकि हम मूल प्रश्न पर लौट आए।” उन्होंने जोर देते हुए कहा कि महिलाओं को दुष्कर्म के बाद पति, पुरुष रक्षक, मालिक और महिलाओं की सेक्सुएलिटी तय करने वाले पुरुष, आप उन्हें जो भी समझते हों, उनकी मृत्यु के बाद भी महिलाओं को स्वतंत्र होकर जीने का हक है। अभिनेत्री स्वरा के इस ओपन लेटर को एक अंग्रेजी वेबसाइट द वायर ने प्रकाशित किया है।

ये भी पढ़ें :-  अभिनेत्री ऋचा चड्ढा का मोदी सरकार पर निशाना, बोलीं-'भूखे को रोटी नहीं, राष्ट्रगान देती है मोदी सरकार'

अभिनेत्री स्वरा ने अपने द्वारा लिखे गए इस ओपन लेटर में ये माना है कि यह फिल्म ऐतिहासिक तथ्यों पर आधारित है और जौहर, सती जैसी कुप्रथाएं हमारे ही समाज का हिस्सा हैं। लेकिन फिल्म की शुरुआत में इन कुप्रथाओं के खिलाफ डिस्क्लेमर के जरिए निंदा करने का कोई मतलब नहीं है अगर अगले तीन घंटे की फिल्म में आपको राजपूत आन-बान-शान का महिमामंडन करना है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने इससे पहले भी बॉलीवुड प्रोड्यूसर और डायरेक्टर पर मॉलेस्टेशन जैसे संगीन आरोप लगाए हैं। खुद के भी मॉलेस्ट होने के बारे में स्वरा ने कुछ महीने पहले बोला था जो मीडिया की सुर्खियां भी बन चुका है।

ये भी पढ़ें :-  बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री ने रचाई एक मुसलमान लड़के से शादी, रखा इतना प्यारा नाम
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>