अभिनेता प्रकाश राज का सवाल: ‘अगर धर्म के नाम पर धमकाना आतंकवाद नहीं है, तो क्‍या है…?’

Nov 04, 2017
अभिनेता प्रकाश राज का सवाल: ‘अगर धर्म के नाम पर धमकाना आतंकवाद नहीं है, तो क्‍या है…?’

दक्षिण भारतीय सिनेमा के लोकप्रिय अभिनेता कमल हासन की ओर से ‘हिंदू आतंकवाद’ का विवादित मुद्दा उठाए जाने के बाद अब अभिनेता-प्रोड्यूसर प्रकाश राज ने भी अपने विचार सोशल मीडिया पर शेयर किए हैं।

अभिनेता प्रकाश राज ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “धर्म, संस्कृति और नैतिकता के नाम पर डर पैदा करना आतंकित करना नहीं है तो और क्या है, मैं बस पूछ रहा हूं।” अभिनेता ने अपने पोस्ट में लिखा कि, “अगर नैतिकता के नाम पर मेरे देश की सड़कों पर जोड़ों को गाली देना और धमकाना आतंकित करना नहीं है… अगर क़ानून हाथ में लेना और लोगों को गौहत्या के शक में मार डालना आतंकित करना नहीं है… अगर गालियों के साथ ट्रोल करना, धमकी देना आतंकित करना नहीं तो असल में क्या है?…. बस पूछ रहा हूं”


प्रकाश राज का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब कमल ने एक तमिल पत्रिका में लिखा था कि इससे पहले दक्षिणपंथी हिंदू बहस करते थे, हिंसा में शामिल नहीं होते थे। लेकिन जब उनकी ‘चालाकी’ विफल होने लगी तो वे अब हिंसा का सहारा ले रहे हैं. कमल हासन ने कहा, ‘चरमवाद उनके खेमे में भी फैल गया है. यह चरमवाद खुद को हिंदू कहलाने वालों की जीत या प्रगति नहीं है।’

राजनैतिक करियर शुरू करने की तैयारियों में ज़ोरशोर से जुटे जाने-माने फिल्म अभिनेता कमल हासन ने गुरुवार को तमिल साप्ताहिक समाचार पत्रिका में अपने नियमित कॉलम में लिखा, “दक्षिणपंथी अब हिन्दू आतंकवाद की चर्चा को चुनौती नहीं दे सकते, क्योंकि आतंक अब उनके घर में भी घुस चुका है… ‘सत्यमेव जयते’ से हिन्दुओं की आस्था खत्म हो रही है, और इसके स्थान पर अब वे ‘जिसकी लाठी, उसकी भैंस’ में विश्वास करने लगे हैं…”. कमल हासन की इस टिप्पणी के बाद वाराणसी में उनके खिलाफ शिकायत भी दर्ज हो गई है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>