नोट बंदी से ठीक पहले बीजेपी ने बिहार सहित देशभर में खरीदी अरबो की जमीन: सुरजेवाला

Nov 25, 2016
नोट बंदी से ठीक पहले बीजेपी ने बिहार सहित देशभर में खरीदी अरबो की जमीन: सुरजेवाला

नोट बंदी के फैसले के बाद मोदी सरकार पहले दिन से ये आरोप लग रहे है की उन्होंने बीजेपी नेताओं को इसके बारे में पहले ही बता दिया था। वही विपक्षी पार्टियो का दावा है कि बंगाल में नोट बंदी से कुछ घंटे पहले बीजेपी के खातो में 3 करोड़ रूपए जमा हुए। अब इस मामले में एक नया खुलासा सामने आया है कि नोट बंदी से पहले बीजेपी ने देश भर में अरबो रूपए की जमीन खरीदी है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर दावा किया की बीजेपी ने बिहार सहित देश भर में अरबो रूपए की संपत्ति कैश और चेक से खरीदी है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा की ‘भाजपा ने नोटबंदी से ठीक पहले बिहार और देश के अलग अलग कोनों में करोड़ो और अरबों की संपत्ति कैश और चेक के माध्यम से खरीदी’ इसके साथ ही उन्होंने फोटो भी शेयर की है।

जानकारी के अनुसार बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह ने जमीन खरीदने के लिए कुछ वरिष्ठ कार्यकर्ताओ और विधायको को ऑथोराइज्‍ड सिग्नेटरी नामित किया गया था। जिसमे से एक बिहार में दीघा (पटना) के बीजेपी एमएलए संजीव चौरसिया है। बिहार में जितनी जमीने खरीदी गयी है उन सब में चौरसिया ही ऑथोराइज्‍ड सिग्नेटरी थे। इस मामले की पुष्टि के चौरसिया से बात की गयी तो उन्होंने कहा की यह सच है की बीजेपी ने अगस्त महीने से लेकर , नवम्बर के पहले सप्ताह तक , बिहार में जमीने खरीदी है। ये जमीन पार्टी कार्यालय और अन्य कामो के लिए खरीदी गयी है। चौरसिया ने यह भी बताया की बिहार के अलावा देश भर में इस तरह की जमीने ख़रीदे गयी है। संजीव चौरसिया से यह भी पुछा गया की इन जमीनों को खरीदने में बीजेपी ने पैसे कैश दिए या चेक में, चौरसिया ने कहा मैं मात्र सिग्नेटरी अथॉरिटी हूँ। ऐसे कामो के लिए पार्टी पैसे देती है। चौरसिया का अंदाजा है कि पार्टी का सारा काम नम्बर एक में होता है इसलिए ये सारी जमीन चेक से ही खरीदी गयी होंगी। बीजेपी ने बिहार के मधुबनी, मधेपुरा, कटिहार, किशनगंज, अररिया, अरवल, लखीसराय में जमीने खरीदी है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>