लालू प्रसाद की कथित ‘बेनामी संपत्ति’ को लेकर, घमासान..

May 22, 2017
लालू प्रसाद की कथित ‘बेनामी संपत्ति’ को लेकर, घमासान..

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद की कथित ‘बेनामी संपत्ति’ को लेकर अब विपक्षी भारतीय जनता पार्टी में ही घमासान मच गया है। भाजपा नेता और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा जहां नेताओं को आरोपों की नकारात्मक राजनीति न करने की सलाह दे रहे हैं, वहीं भाजपा नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (सुमो) ने इशारों ही इशारों में सिन्हा को ‘गद्दार’ तक कह दिया। सिन्हा ने सोमवार को कहा कि आरोप तब तक महज आरोप होते हैं, जब तक वे सिद्ध नहीं हो जाते। इसी क्रम में उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समाज के प्रति प्रतिबद्धता को लेकर तारीफ की और उन पर अनर्गल आरोप लगाने वालों की निंदा की।

ये भी पढ़ें :-  पिता के बाद 14 साल के बेटे ने भी की ख़ुदकुशी, फीस के लिए टीचर करते थे परेशान

उल्लेखनीय है कि इन दिनों लालू प्रसाद पर बेनामी संपत्ति को लेकर भाजपा के नेता सुशील मोदी लगातार नए खुलासे करते जा रहे हैं, वहीं दिल्ली सरकार से बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा मुख्यमंत्री केजरीवाल पर अपने ही कैबिनेट के मंत्री सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपये रिश्वत लेने का आरोप लगाया है। जैन ने मिश्रा पर मानहानि का मुकदमा किया है।

शत्रुघ्न सिन्हा ने सोमवार को लगातार चार ट्वीट कर नेताओं को नकारात्मक राजनीति न करने की सलाह देते हुए लिखा, “अनर्गल आरोपों के आधार पर आजकल लोग मीडिया को अच्छा खासा मसाला परोस देते हैं। यह ठीक नहीं है। बहुत हुआ, अब नकारात्मक राजनीति बंद होनी चाहिए। आप जो आरोप लगा रहे हैं, उसे साबित करें या यह सब बंद करें।”

ये भी पढ़ें :-  अपनी बेटी को छेड़छाड़ से रोकने आये माँ-बाप को आरोपी ने किया बेरहमी से क़त्ल

सिन्हा ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “व्यक्तिगत रूप से मैं सभी राजनीतिक नेताओं, खासकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का उनकी विश्वसनीसता, संघर्ष और समाज के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को लेकर सम्मान करता हूं।”

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “भाजपा ईमानदारी, पारदर्शिता और सबको साथ लेकर चलने में विश्वास करती है और इसे साथ लेकर चलना चाहिए। जब तक आरोप सिद्ध नहीं होता, तब तक वह सिर्फ आरोप है।”

उधर, सुशील मोदी ने भी ट्वीट कर सिन्हा पर जोरदार हमला बोला।

उन्होंने ट्वीट किया, “जिस लालू की बेनामी संपत्ति के बचाव में नीतीश नहीं उतरे, उसके बचाव में भाजपा के ‘शत्रु’ कूद पड़े।”

ये भी पढ़ें :-  कुछ ही घंटे में एक ही जगह पर दो बार पटरी से उतरी ट्रेन, कोई हताहत नहीं

मोदी यहीं नहीं रुके, उन्होंने इशारों ही इशारों में सिन्हा को ‘गद्दार’ कहते हुए एक अन्य ट्वीट में लिखा, “ये जरूरी नहीं कि जो शख्स मशहूर है, उस पर ऐतबार किया जाए। जितनी जल्दी हो, घर से गद्दारों को बाहर किया जाए।”

सिन्हा पहले भी कई बार पार्टी नेताओं के विरोध में बयान दे चुके हैं और नीतीश कुमार व अरविंद केजरीवाल की तारीफ कर चुके हैं। बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार पर उन्होंने कहा था कि ‘यह तो होना ही था’ इस पर पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने उन्हें ‘बैलगाड़ी के नीचे चलने वाला कुत्ता’ कहा था।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>