अलका लांबा AAP पार्टी से हुई निलंबित ,याद आई ‘गीता’

Jun 16, 2016

नई दिल्ली। दिल्ली के चांदनी चौक से आप विधायक अलका लांबा को पार्टी के विपरित बयान देने पर प्रवक्‍ता पद से दो महीने के लिए निलंबित कर दिया गया है। पार्टी द्वारा निलंबित होने पर लांबा का कहना है कि वह पार्टी के हर फैसले का सम्‍मान करती हैं। साथ ही लांबा ने यह भी कहा है कि उनके निलंबन होने संबंधी पार्टी ने पहले उन्‍हें कोई सूचना नहीं दी थी।

बताया जा रहा है कि हाल ही में परिवहन मंत्री के पद से इस्‍तीफा देने वाले गोपाल राय के बारे में लांबा ने कुछ पार्टी विपरित बयान दिया था। जिसके चलते उन्‍हें न‍ि‍लंबित किया गया है।

इसके अलावा लांबा ने निलंबन पर भगवतगीता को याद कर कहा ‘जो कल किसी और का था, आज तेरा है, जो तेरा है कल किसी और का होगा, यह चक्र समय की सुई के साथ घूमता ही रहता है, यही जीवन भी है और हकीकत भी।’

इसके अलावा भी लांबा ने कई ट्वीट कर अपने निलंबन का कोई एतराज नहीं जताया है। लांबा ने ट्वीट कर आगे कहा ‘मैं पार्टी की एक अनुशासित कार्यकर्त्ता हूं और पार्टी के हर फैसले का सम्मान करती हूं। मुझसे अनजाने में भी अगर कोई गलती हुई होगी तो मैं उसका पश्चाताप जरूर करुंगी। ताकि मेरी वजहा से पार्टी की भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई को किसी भी तरह का कोई भी नुक्सान ना पहुंचे।

क्‍या कहा था लांबा ने?

अलका लांबा ने पार्टी विपरित बयान देते हुए कहा था कि जब तक प्रिमियम बस सर्विस घोटाले की निष्‍पक्ष जांच नहीं हो जाती तब तक सतेंद्र जैन ही परिवहन विभाग संभालेंगे। ताकि पार्टी पर किसी तरह का भ्रष्‍टाचार का आरोप ना लग सके। लांबा ने कहा था कि जब यह विवाद सुलझ जाएगा उसके बाद राय को ही परिवहन मंत्रालय सौंपा जाएगा।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>