8 साल से ईंट ढो रही थी मीरा, अब रांची के बेस्ट कॉलेज में मिला एडमिशन

Jul 01, 2016

मीरा खोया नाम है उसका। अभी मात्र 16 साल की है। मंगलवार को उसे निर्मला देवी महिला कॉलेज में एडमिशन मिल गया। यह कॉलेज रांची के बेहतरीन कॉलेज में से एक है। फिर इसमें क्या खास बात हुई। बात है तभी हम ये खबर आपके लिए उठा कर लाए हैं।

मीरा पिछले 8 साल से ईंट ढ़ोने का काम करती है। वो भी 1-2 घंटे नहीं 12-12 घंटे तक। 12 साल पहले मीरा के पापा की मौत हो गई थी। उसके बाद से मां और एक भाई के भरोसे घर चलाना मुश्किल। लेकिन तब मीरा छोटी थी। बड़ी हुई, समझ बढ़ी। ज़रूरतों का ख्याल आया। फिर लग गई काम में। खूब काम भी किया और टाइम निकाल के पढाई भी। ये सब करते-करते 10वीं पास कर गई। लेकिन, अब क्या?
फिर NDTV की एक रिपोर्ट से लोगों को इस बात की खबर लगी। तो कुछ लोग मदद भी करना चाहते हैं। किया भी। अकाउंट में लगभग 3 लाख रूपए जमा हो गए। फिर निर्मला देवी कॉलेज वालों ने इसका दसवीं का रिजल्ट देखा। एडमिशन देने के लिए तैयार हो गए। एडमिशन दिया। स्कॉलरशिप भी मिला। और कॉलेज वालों ने हॉस्टल में रहने की इजाज़त भी दी।

ये भी पढ़ें :-  बक़रीद पर जानवरों की क़ुरबानी बेख़ौफ़ होकर करें मुसलमान: मौलाना अरशद मदनी

मीरा इससे बहुत खुश होती है। वो अपनी मदद करने वालों को भी खूब धन्यवाद देती है। उसकी इच्छा डॉक्टर बनने की थी। लेकिन वो अब पुलिस ऑफिसर बनना चाहती है क्योंकि इसके लिए उसे अलग से पैसे नहीं खर्च करने होंगे। खुद को बहुत लकी भी बताती है। इतनी परेशानियों के बाद भी खुद को लकी बता रही है। तारीफ़ है। हमें लगता है अभी बहुत कुछ सीखना बाकी है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>