#KashmirUnrest:घाटी में कर्फ्यू 50 दिन पूरे, जानिए टाइमलाइन

Aug 27, 2016
#KashmirUnrest:घाटी में कर्फ्यू 50 दिन पूरे, जानिए टाइमलाइन

श्रीनगर। शनिवार को कश्‍मीर में कर्फ्यू के 50 दिन पूरे हो गए। आठ जुलाई को हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद हिंसा और अशांति का जो तांडव शुरू हुआ, उसमें अब तक 70 लोगों की मौत हो चुकी है। बुरहान वानी की मौत के बाद कश्‍मीर में कुछ लोगों ने उसे ‘शहीद’ और कश्‍मीर की लड़ाई को ‘आजादी की लड़ाई’ करार दिया। 

 

जुलाई में इंटरनेट से लेकर अखबार तक बंद 7 जून- हिजबुल कमांडर बुरहान वानी ने एक नया वीडियो जारी किया और सैनिक पंडित कॉलोनियों पर आतंकी हमले की धमकी दी। 8 जुलाई- जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस और राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के ऑपरेशन में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत। 9 जुलाई-कश्‍मीर घाटी में विरोध प्रदर्शनों की शुरुआत 11 प्रर्दशनकारियों की मौत और 120 लोग घायल, अमरनाथ यात्रा रोकी गई। इंटरनेट और मोबाइल सर्विसेज को बंद।  10 जुलाई-वानी के पिता मुजफ्फर वानी ने कहा कि उन्‍हें काफी संतोष है कि उनके बेटे को शहादत हासिल हुई। 12 जुलाई-गोली लगने की वजह से दिल्‍ली युनिवर्सिटी के छात्र की मौत के बाद हिंसा में हुईं मौतों का आंकड़ा 32 तक पहुंचा। 13 जुलाई-दक्षिण अफ्रीका से लौटने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने एक उच्‍चस्‍तरीय मीटिंग की। उन्‍होंने घाटी में सुरक्षा बलों की तैनाती का आदेश दिया साथ ही सुरक्षाबलों से नरमी बरतने की कहा। 14 जुलाई- कोकेरनाग जहां पर वानी मारा गया वहां भीड़ ने एक घर को लगाई आग। घाटी के दूसरे हिस्‍सों में भी विरोध प्रदर्शन शुरू। 

15 जुलाई- कुलगाम के यारीपुर पुलिस स्‍टेशन पर ग्रेनेड अटैक 15 पुलिसकर्मियों की मौत और पांच घायल हुए!16 जुलाई- सरकार ने सूचना के इंफॉर्मेशन ब्‍लैक आउट का नोटिस जारी किया। अखबार की प्रिंटिग पर रोक।  17 जुलाई- कश्‍मीर में केंद्र सरकार ने 2,000 अतिरिक्‍त बलों को रवाना किया। 18 जुलाई- गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने घाटी में हिंसा के लिए पाकिस्‍तान को दोषी ठहराया। वहीं राज्‍यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने घाटी के हालातों की तुलना 90 के दशक से कर डाली। 19 जुलाई-सेना ने साउथ कश्‍मीर में हुई फायरिंग की घटना में इंक्‍वॉयरी के आदेश दिए जिसमें तीन नागरिकों की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा 42 तक पहुंच गया था। 20 जुलाई-सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह सुहाग श्रीनगर में सुरक्षा व्‍यवस्‍था का जायजा लेने पहुंचे। घाटी के अखबारों के मालिकों और संपादकों ने मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती के खिलाफ प्रदर्शन शुरू किया। 21 जुलाई- घाटी में कर्फ्यू का 13वां दिन और मौत का आंकड़ा 45 तक पहुंचा। बांदीपोर, बडगाम, गांदरबल और बारामूला में कुछ स्‍कूल खोले गए। 24 जुलाई-श्रीनगर में गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सुरक्षा व्‍यवस्‍था का जायजा लिया। साथ ही पैलेट गन के प्रयोग से बचने को कहा। 26 जुलाई- हालातों में सुधार देखते हुए अनंतनाग को छोड़कर घाटी के सभी इलाकों से कर्फ्यू हटा लेकिन धारा 144 को लागू रखा गया। सभी शैक्षणिक संस्‍थाओं को बंद रखने का आदेश दिया गया। अलगाववादियों के मार्च को देखते हुए कर्फ्यू फिर से लगाया गया। 

29 जुलाई- हालात और बिगड़ और कई जगहों से हिंसा की खबरें आईं जिनमें 130 लोग घायल हुए। यूएन मिलिट्री ऑब्‍जर्व्‍स ग्रुप के ऑफिस के बाहर विरोध प्रदर्शन हुए तो 70 जगहों पर पत्‍थरबाजी की घटनाएं हुईं।

12 वर्ष बाद लौटी बीएसएफ

1 अगस्‍त-श्रीनगर में प्रदर्शनकारियों ने शिक्षा मंत्री नईम अख्‍तर के घर को आग लगाई।
2 अगस्‍त-आसिया अंद्राबी के संगठन दुख्‍तरान-ए-मिलात की महिलाओं ने भारत-विरोधी नारे लगाए।
3 अगस्‍त- घाटी के कुछ और हिस्‍सों में कर्फ्यू बढ़ाया गया।
4 अगस्‍त-जम्‍मू डिवीजन स्थित चेनाब घाटी में भी विरोध प्रदर्शनों की शुरुआत। किश्‍तवाड़, डोडा, बनिहाल, भादरवाह के साथ ही कुछ और इलाकों में बंद।
5 अगस्‍त- अलगाववादियों ने मार्च का ऐलान किया और कर्फ्यू घाटी के बाकी हिस्‍सों में भी बढ़ाया गया। तीन लोगों की मौत और 674 लोग प्रदर्शन में घायल।
6 अगस्‍त- सुरक्षाबलों ने अलगाववादियों को मार्च करने से रोका।अलगावादियों ने 12 अगस्‍त तक हड़ताल का ऐलान किया।
11 अगस्‍त- वानी की कब्र तक अलगाववादी नेताओं ने मार्च की योजना बनाई लेकिन सुरक्षाबलों ने रोका। सैय्यद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारूक की गिरफ्तारी।
12 अगस्‍त-अलगाववादी नेताओं ने 18 अगस्‍त तक हड़ताल का ऐलान किया और 15 अगस्‍त के मौके पर कश्‍मीरियों से ‘ब्‍लैक डे’ की अपील की।
13 अगस्‍त-कश्‍मीर के कई हिस्‍सों में कर्फ्यू लगाया। शुक्रवार को नमाज के बाद भड़की हिंसा में कई लोग घायल। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा घाटी में कर्फ्यू चरणबद्ध तरीके से हटाया जाएगा।
15 अगस्‍त-श्रीनगर में सुरक्षाबलों की फायरिंग में एक प्रदर्शनकारी की मौत वहीं तंगमार्ग में कुछ दिनों पहले घायल एक व्‍यक्ति की भी मौत हुई। 

16 अगस्‍त-पांच प्रदर्शनकारियों की मौत। जिसमें चार की मौत बडगाम के बीरवाह में हुई तो एक अनंतनाग में मारा गया।
17अगस्‍त- इंडियन आर्मी की ओर से चलाए गए सर्च ऑपरेशन में एक व्‍यक्ति की मौत।
19 अगस्‍त-सुरक्षाबलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प में 120 लोग घायल हुए। सुरक्षाबलों ने लगातार छठवें हफ्ते श्रीनगर की जामिया मस्जिद में शुक्रवार का नमाज पर रोक जारी रखी।
21 अगस्‍त-श्रीनगर में आंसू गैस का गोला लगने पर एक युवा की मौत और 70 लोग घायल। अनंतनाग, शोपियां और पुलवामा में आजादी रैलियां जिसमें 40,000 लोग सिर्फ शोपियां रैली में इकट्ठा हुए।
21 अगस्‍त- घाटी में 12 वर्षों के बाद बीएसएफ की तैनाती हुई।
22 अगस्‍त-पूर्व मुख्‍यमंत्री उमर अब्‍दुल्‍ला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।
23 अगस्‍त-स्पेशल पुलिस ऑफिसर्स ने अपने घरों पर हुए हमले के बाद पद से इस्‍तीफा दिया।
24 अगस्‍त-राजनाथ सिंह ने कश्‍मीर में सुरक्षा का जायजा लिया। पुलवामा में एक और व्‍यक्ति की मौत।
25 अगस्‍त-राजनाथ सिंह ने घाटी में पैलेट गन की जगह मिर्ची के गोले का प्रयोग करने का आदेश दिया।
26 अगस्‍त-कर्फ्यू के 50 दिन पूरे होने पर मुख्‍समंत्री महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>