फर्जी बाबा के आश्रम से छुड़ाई गई 40 लड़कीयां, जहाँ उनके साथ होता था शारीरिक और मानसिक शोषण

Dec 22, 2017
फर्जी बाबा के आश्रम से छुड़ाई गई 40 लड़कीयां, जहाँ उनके साथ होता था शारीरिक और मानसिक शोषण

बल्तकारी बाबा गुरमीत राम-रहीम के जैसा ही एक और हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहाँ पर एक और ढोंगी बाबा आश्रम की आड़ में वहां आने वाली युवती और महिलाओं का शारीरिक और मानसिक शोषण करता था।

बता दें कि ये शर्मनाक मामला देश की राजधानी दिल्ली के विजय विहार का है। जहाँ आध्यात्मिक विश्वविद्यालय नाम से आश्रम चलाने वाला बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित खुद को कृष्ण बताता था। जिसके पीछे वजह ये बताई जा रही है कि बाबा ने 16000 महिलाओं के साथ संबंध बनाने का लक्ष्य रखा था। वह लड़कियों को गोपियां बनाकर उन्हें संबंध बनाने के लिए आकर्षित करता था। लेकिन पीछले एक महीने से ज्यादा समय के बाद राजस्थान के एक पीड़ित परिवार ओर एक समाजसेविका ने कड़ी मशक्कत, भागदौड़ और कोशिशों के बाद माननीय दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और कोर्ट में PIL दाखिल की जहाँ कोर्ट ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत आश्रम में घुसकर जांच करने और आश्रम के अंदर चला रही सभी गतिविधियों की रिपोर्ट तैयार करने का आदेश दिया। जिसके बाद आध्यात्मिक विश्वविद्यालय पर गुरूवार को सीडब्ल्यूसी व दिल्ली महिला आयोग की टीम द्वारा कई घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान करीब 40 लड़कियों को यहाँ से मुक्त कराया गया है। जिनमें नाबालिग लड़कियां भी शामिल हैं। लेकिन बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित अभी भी पुलिस की पहुंच से बाहर है। पुलिस ने रेस्क्यू की गई लड़कियों और महिलाओं को दो बसों में भरकर भिजवाया है। आश्रम में दिल्ली पुलिस का ‘आपरेशन रेस्क्यू’ अभी भी जारी है।

मिली रिपोर्ट्स के अनुसार आश्रम की जांच करने पहुंची महिला आयोग और पुलिस की टीम को कुछ वीडियो मिले, जिससे बाबा की काली करतूतों का खुलासा हुआ है। इसी आश्रम मैं रह रहे कुछ अनुयायियों के परिजनों और आश्रम में खुद भी अनुयायी रहे लोगों का दावा है कि बाबा पूरी तरह से पाखंडी और ढोंगी है, जोकि अध्यात्म का चोला पहनकर न सिर्फ ढोंग करता है। बल्कि आश्रम में आने वाली युवती और महिलाओं का शारीरिक और मानसिक शोषण भी करता है। इतना ही नहीं बल्कि रेड पर गई युवती ने भी पहले बताया था कि वो भी काफी समय इस आश्रम में रह चुकी है और अब यहां उसकी बहन भी आश्रम में है और ये आरोपी है कि बाबा इस युवती का भी यौन शोषण कर चुका है।

इस आश्रम में काफी समय अनुयायी बनकर रह चुकी एक अन्य पीड़ित ने बताया कि ये बाबा अपने आपको ईश्वर बताता है और अपना सब कुछ यानी तन-मन-धन सब कुछ समर्पित करने की बात कहता है। और ऐसा माइंड वॉश करता है कि लोग खुद ब खुद अपना समर्पित कर देते हैं। पीड़ित ने बताया कि उसने अपनी 4 बेटियों को इस बाबा को यहां आश्रम में समर्पित कर दिया है, जिसमें एक बेटी नाबालिग भी है। लेकिन अब इनकी अपनी ही बेटी ने इनपर कई गंभीर आरोप लगा दिए हैं। जिन्हें सुनकर आप खुद ही चौंक जाएंगे। पीड़ित महिला का आरोप है कि आरोपी बाबा ने उसके साथ रेप किया है, जिसके खिलाफ उन्होंने पुलिस में मामला दर्ज कराया हुआ है। इस मामले में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी हरिशंकर ने कहा कि यह मामला गुरमीत राम-रहीम जैसा हो सकता है। सीबीआई जांच होनी चाहिए। कोर्ट ने सीबीआई को आश्रम में छापा मारने के निर्देश दिए हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>