एक हफ्ते में 4.75 करोड़ जमा कराने का श्रीश्री रविशंकर को NGT ने दिये आदेश

May 31, 2016

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने ऑर्ट ऑफ लिविंग का 4.75 करोड़ रूपए की बैंक गारंटी का प्रस्ताव ख़ारिज कर दिया है और 5,000 का जुर्माना भी लगा दिया है.

एनजीटी ने कहा है कि रकम एक हफ्ते में ऑर्ट ऑफ लिविंग चुकाए. मंगलवार को मामले की सुनवाई के दौरान एनजीटी ने आर्ट ऑफ लिविंग की इस दलील को खारिज कर दिया और कहा कि आपको प्रोग्राम करने की अनुमति इसी शर्त पर दी गई थी कि आप रकम समय पर चुकाएंगे. लेकिन आप रकम चुकाने के बजाय अपने वादे से मुकर गए और फिर ये रकम न चुकानी पड़े उसके लिए आपने ढेरों याचिकाएं लगा दीं.

दिल्ली में वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल के दौरान नियमों की अनदेखी पर एनजीटी ने श्रीश्री रविशंकर की संस्था आर्ट ऑफ लिविंग पर 5 करोड़ जुर्माना लगाया था, जिसमें से संस्था ने सिर्फ 25 लाख रुपये जमा किए और प्रोग्राम खत्म होने के बाद 4.75 करोड़ रुपये नहीं दिए.

आर्ट ऑफ लिविंग ने इसके बदले बैंक गारंटी देने की बात कही थी.

दिल्ली में यमुना के किनारे मार्च में आर्ट ऑफ लिविंग का महोत्सव हुआ था. इस मामले में आर्ट ऑफ लिविंग पर 5 करोड़ का जुर्माना लगाया गया था. आर्ट ऑफ लिविंग ने महोत्सव के पहले दिन 11 मार्च को 25 लाख रुपये दिए थे. शेष रकम अदा करने की डेडलाइन 1 अप्रैल थी. आर्ट ऑफ लिविंग ने ट्रिब्यूनल से कहा था वह बैंक गारंटी के तौर पर बाकी रकम देगा.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>