श्रीलंका में विनाशकारी बाढ़ और भूस्खलन से 202 लोग मरे, 96 लोग अभी भी लापता

Jun 01, 2017
श्रीलंका में विनाशकारी बाढ़ और भूस्खलन से 202 लोग मरे,  96 लोग अभी भी लापता

श्रीलंका में विनाशकारी बाढ़ और भूस्खलन में मारे गए लोगों की संख्या बुधवार सुबह 202 पर पहुंच गई, जबकि 96 लोग अभी भी लापता हैं। आपदा प्रबंधन केंद्र (डीएमसी) ने कहा कि बाढ़ के कारण 63 लोग घायल हुए हैं, जबकि छह लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, शुक्रवार को भारी बारिश और तेज हवा के कारण द्वीप के कई इलाके भूस्खलन और बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। सबसे ज्यादा तबाही दक्षिणी जिलों में हुई है।

जैसे-जैसे पानी का स्तर घट रहा है, बचाव दल और सेना मिलकर प्रभावित क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर सफाई अभियान चला रही है। करीब 83,200 लोगों ने सुरक्षित स्थानों में आश्रय की मांग की है।

ये भी पढ़ें :-  तीन दशक बाद सऊदी में होगी सिनेमा की एंट्री, इस दिन शुरू होगी पहली फिल्म

संयुक्त राष्ट्र के एक बयान में कहा गया कि बाढ़ और भूस्खलन के कारण श्रीलंका के 16 अस्पतालों को खाली करा लिया गया है।

संयुक्त राष्ट्र के बयान में कहा गया, “विस्थापित लोगों की संख्या और सुरक्षित स्थानों में जगह की कमी, अस्थायी आवास और स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। संक्रामक रोगों के जोखिम के साथ रोग निगरानी और मलेरिया नियंत्रण भी प्राथमिकता है।”

स्वास्थ्य विभाग ने दक्षिणी श्रीलंका के कुलुतारा, रतनपुरा और गाले जिलों में चिकित्सा दलों की तैनाती की है।

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने मंगलवार को कहा कि पूर्ण रूप से तबाह हुए 640 घरों तथा आंशिक रूप से तबाह हुए 5,329 घरों की मरम्मत का काम जल्द शुरू किया जाएगा।

ये भी पढ़ें :-  तीन दशक बाद सऊदी में होगी सिनेमा की एंट्री, इस दिन शुरू होगी पहली फिल्म

वहीं, अंतर्राष्ट्रीय सहायता भी मिलनी शुरू हो गई है। चीन, भारत, अमेरिका, ब्रिटेन, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, नार्वे और यूरोपीय संघ ने राहत सामग्री भेजनी शुरू कर दी है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>