2002 गोधरा कांड का मुख्य आरोपी फारुक भाणा को गुजरात एटीएस ने 14 साल बाद किया गिरफ्तार

May 18, 2016

अहमदाबाद। गुजरात एटीएस को बुधवार को बड़ी कामयाबी मिली। उसने गोधरा कांड के मुख्य आरोपी फारुक भाणा को गिरफ्तार कर लिया। भाणा को पंचमहल जिले के कलोल टोल प्लाजा से गिरफ्तार किया गया। भाणा पर गोधरा स्टेशन पर खड़ी ट्रेन में आग लगाने का आरोप है। वह 2002 से फरार था। गोधरा स्टेशन पर खड़ी साबरमती एक्सप्रेस की एस-6 बोगी में आग लगाई गई थी। इसमें 59 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई थी। मरने वालों में ज्यादातर कारसेवक थे, जो अयोध्या से लौट रहे थे।

27 फरवरी 2002 को गोधरा कांड के बाद गुजरात में साम्प्रदायिक दंगे भड़े थे। इनमें हजारों लोग मारे गए थे। गोधरा कांड में 107 आरोपी थे, इनमें से पांच की ट्रायल के दौरान मौत हो गई। आठ अन्य आरोपी किशोर थे, जिन पर अलग अदालत में मुकदमा चलाया गया। मामले में कुल 94 लोगों को आरोपी बनाया गया।

साल 2011 में एक विशेष अदालत ने गोधरा कांड में 31 को दोषी करार दिया था, जबकि 63 लोगों को रिहा कर दिया था। 31 में से 11 को फांसी की सजा और 20 को उम्र कैद की सजा सुनाई गई थी। विशेष अदालत ने माना था कि यह कांड सोची समझी साजिश का हिस्सा था।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>