ऑक्सीजन की जगह औद्योगिक गैस की सप्लाई से हुई 20 मरीजों की मौत, भाजपा विधायक पर लगे गंभीर आरोप

Aug 23, 2017
ऑक्सीजन की जगह औद्योगिक गैस की सप्लाई से हुई 20 मरीजों की मौत, भाजपा विधायक पर लगे गंभीर आरोप

हाईकोर्ट ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के सर सुंदर लाल हॉस्पिटल में करीब 20 मरीजों के मौत के मामले में दाखिल जनहित याचिका पर मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। जहाँ ये आरोप है कि मरीजों की मौत ऑक्सीजन के बजाय औद्योगिक गैस की सप्लाई करने की वजह से हुई है। जिसका ठेका भाजपा विधायक हर्षवर्धन बाजपेई की कंपनी के पास है।

बता दें कि सुनवाई के दौरान कोर्ट ने महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा को मौत के कारणों की जांच कर रिपोर्ट अदालत में देने का निर्देश दिया है। इस याचिका में मौत का कारण ऑक्सीजन की जगह गलत गैस सप्लाई करने को बताया गया है। इसके साथ-साथ ये भी कहा गया है कि हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की सप्लाई का ठेका इलाहाबाद में नैनी स्थित पारेर हाट इंड्रस्ट्रीयल इंटरप्राइजेज को दिया गया था।

ये भी पढ़ें :-  पिता के बाद 14 साल के बेटे ने भी की ख़ुदकुशी, फीस के लिए टीचर करते थे परेशान

जबकि इस कंपनी के बारे में ऐसा कहा जा रहा है कि कंपनी के पास मेडिकल गैस के उत्पादन का लाइसेंस भी नहीं है। याचिका में इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की भी मांग की गई है। दूसरी तरफ कोर्ट ने महानिदेशक को एक कमेटी बनाकर इस पूरे मामले की जांच कराने का निर्देश दिया है।

इस पूरे मामले में ‘सर सुंदर लाल हॉस्पिटल’ के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर ओपी उपाध्याय ने कहा है कि ‘हाईकोर्ट के आदेश का सम्मान है। लेकिन याचिकाकर्ता का 20 मरीजों की मौत का आरोप निराधार है।’

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>