मप्र में पकड़े गए 2 संदिग्धों से भाजपा नेताओं के रिश्ते : कांग्रेस

Feb 10, 2017
मप्र में पकड़े गए 2 संदिग्धों से भाजपा नेताओं के रिश्ते : कांग्रेस

भारतीय सामरिक महत्व की जानकारियां पाकिस्तान को देने के आरोप में पकड़े गए 11 संदिग्धों में से दो आरोपियों से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के रिश्ते सामने आ रहे हैं। कांग्रेस ने एक आरोपी ध्रुव सक्सेना की भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के साथ तस्वीर भी जारी की है। भाजपा हालांकि इन आरोपों को नकार रही है। आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने खुफिया जानकारी पाक को भेजने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए गुरुवार को 11 लोगों को गिरफ्तार किया था। इन पर आरोप है कि वे पैरलल (समानांतर) टेलीफोन एक्सचेंज स्थापित कर खुफिया जानकारी पाकिस्तान तक भेजते थे। एसटीएस ने कई टेलीफोन एक्सचेज भी पकड़े और हजारों की तादाद में मोबाइल फोन की सिम भी बरामद की है।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के.के. मिश्रा ने एक आरोपी ध्रुव सक्सेना के फेसबुक पेज की ऐसी तस्वीर जारी की है, जिसमें सक्सेना भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के साथ नजर आ रहा है। मिश्रा का आरोप है कि राष्ट्रवाद, हिंदुत्व और देशभक्ति की पैरोकारी करने वाले विजयवर्गीय पाकिस्तान जासूस के आश्रयदाता बने हुए हैं।

उन्होंने कहा कि एक तरफ विजयवर्गीय बम धमाकों के आरोपियों के घर जाकर हर संभव मदद का भरोसा दिलाते हैं और अब उनसे जुड़ा एक ऐसा व्यक्ति सामने आया है, जो पाकिस्तान के लिए जासूसी करता था।

एटीएस द्वारा पकड़े गए आरोपियों में से एक ग्वालियर के भाजपा पार्षद के परिवार का सदस्य जितेंद ठाकुर भी है। कांग्रेस ने कई और भी पोस्टर भी जारी किए हैं, जिसमें विजयवर्गीय के अलावा ध्रुव सक्सेना के साथ भाजपा के कई अन्य नेताओं की तस्वीरें हैं।

कांग्रेस द्वारा ध्रुव सक्सेना के साथ तस्वीर जारी किए जाने के बाद विजयवर्गीय का पक्ष जानने के लिए आईएएनएस ने उनसे संपर्क किया, मगर कार्यक्रमों में व्यस्त होने के कारण उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

वहीं भाजपा के मीडिया प्रमुख लोकेंद्र पाराशर ने आईएएनएस से कहा, “सार्वजनिक जीवन में होने के कारण स्वागत करने कौन व्यक्ति आया है, उसके बारे में पता लगाना आसान नहीं होता, जहां तक ध्रुव सक्सेना की बात है, उसके बारे में पता किया जा रहा है कि वह पार्टी का सदस्य है भी या नहीं।”

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की एक विशेषता यह भी है कि उनके बयानों में ‘कुत्ता’ शब्द आ ही जाता है। बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा की करारी हार पर पार्टी के सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने जब कहा कि ‘यह तो होना ही था’ तब विजयवर्गीय ने उनकी तुलना कुत्ते से करते हुए कहा था, “कोई कुत्ता जब बैलगाड़ी के नीचे चलता है तो उसे लगता है कि गाड़ी वही चला रहा है।”

विजयवर्गीय ने हाल ही में कोलकाता में पार्टी की एक रैली में कहा था, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शेर हैं और उनके विरोधी कुत्ते-बिल्ली हैं।”

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>