मुख्यमंत्री शिवराज के गृह जनपद में 2 किसानों ने की आत्महत्या

Jun 16, 2017
मुख्यमंत्री शिवराज के गृह जनपद में 2 किसानों ने की आत्महत्या

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जनपद सीहोर में दो किसानों ने गुरुवार को जान दे दी। पुलिस मौत का कारण बीमारी और विवाद बता रही है, जबकि परिजन इससे सहमत नहीं हैं। इस तरह राज्य में चार दिनों में आत्महत्या करने वाले किसानों की संख्या आठ हो गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, नसरुल्लागंज के लाचौर गांव के किसान मुकेश यादव (23) ने बुधवार को खेत में जहर खा लिया। उसकी हालत बिगड़ने पर पहले नसरुल्लागंज के स्वास्थ्य केंद्र और फिर भोपाल ले जाया गया, जहां उसकी गुरुवार को मौत हो गई। मुकेश के पास डेढ़ एकड़ जमीन थी।

नसरुल्लागंज के थाना प्रभारी निरंजन शर्मा ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया कि मुकेश की तीन माह पहले ही शादी हुई थी और उसने पारिवारिक तनाव के चलते आत्महत्या की। वहीं एक अन्य अधिकारी ने आत्महत्या की वजह पेट की बीमारी बताया है। जबकि मुकेश के परिजनों का कहना है कि पुलिस ने उनसे किसी से भी आत्महत्या का कारण बताने से मना किया है, लेकिन उसने बीमारी या पारिवारिक तनाव के चलते यह कदम नहीं उठाया है।

सीहोर के ही सिद्दीकीगंज थाना क्षेत्र के बापचा गांव में भी आत्महत्या का एक मामला सामने आया है। गांव के खाजू खां (75) नामक किसान ने पेड़ से लटककर गुरुवार को आत्महत्या कर ली।

थाना प्रभारी आर. एस. चौहान ने कहा कि खाजू खां मानसिक रूप ये विक्षिप्त था, और इसी वहज से उसने आत्महत्या कर ली। जबकि परिजनों का कहना है कि खाद-बीज न मिलने से वह परेशान थे।

राज्य में किसानों की आत्महत्या की बाढ़-सी आ गई है। बीते चार दिनों में आत्महत्या करने वाले किसानों की संख्या आठ हो गई है। इनमें से तीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जनपद सीहोर से हैं। सीहोर के जजना गांव में पांच लाख रुपये के कर्जदार दुलीचंद्र और विदिशा जिले के शमशाबाद थाने के जीरापुर के किसान हरि सिंह जाटव ने जहर खाकर सोमवार को आत्महत्या कर ली थी।

इसी तरह होशंगाबाद के भैरोपुर गांव के किसान माखन लाल ने कर्ज से परेशान होकर मंगलवार सुबह फांसी लगा ली थी। बुधवार को बालाघाट जिले के लालबर्रा थाना क्षेत्र के बल्हारपुर गांव के रमेश(40) ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली। लगभग एक एकड़ जमीन के मालिक रमेश पर दो लाख रुपये का कर्ज था। होशंगाबाद के बावई थाना क्षेत्र के चपलासर के किसान नर्मदा प्रसाद यादव (50) ने सूदखोर से परेशान होकर जहर खाकर बुधवार को आत्महत्या कर ली थी। इसी दिन शिवपुरी के बिनेका गांव में कल्ला नामक किसान ने फांसी लगा ली थी।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>