186 करोड़ का सोना देश के सबसे अमीर पद्मनाभस्वामी मंदिर से गायब

Aug 16, 2016

सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व सीएजी विनोद राय से कहा था कि वे पद्यनाभस्‍वामी मंदिर पर एक ऑडिट रिपोर्ट तैयार करके सौंपे।

केरल के मशहूर पद्यनाभस्‍वामी मंदिर से भारी मात्रा में सोने के बर्तन गायब होने का मामला सामने आया है। सुप्रीम कोर्ट को सौंपी गई एक रिपोर्ट के मुताबिक, केरल के तिरुवनंतपुरम स्थित पद्यनाभस्‍वामी मंदिर से सोने के 769 बर्तन गायब हुए हैं। इनकी कीमत लगभग 186 करोड़ रपए बताई गई है। पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि केरल के मंदिर के मेहराबों (गुम्‍बदों) में मिले विशाल खजाने से 776 किलो के स्‍वर्ण बर्तनों के गायब होने की ‘विस्‍तृत जांच’ होनी च‍ाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने अक्‍टूबर 2015 में राय से ऑडिट रिपोर्ट सौंपने को कहा था। रिपोर्ट के अनुसार, 186 करोड़ रुपए के 769 सोने के बर्तनों का कोई सुराग नहीं मिला। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि गलाने और परिष्‍कृत करने के लिए भेजे गए सोने का 30 प्रतिशत हिस्‍सा खो गया है। सुप्रीम कोर्ट जज आरएम लोढा और एके पटनायक की खंडपीठ ने अप्रैल, 2015 में एक अंतरिम आदेश में पूर्व सीएजी विनोद राय से कहा था कि वे पद्यनाभस्‍वामी मंदिर के पिछले 25 साल के खातों और खजाने पर एक ऑडिट रिपोर्ट तैयार करके सौंपे।

सूत्रों के अनुसार रिपोर्ट में लिखा है, ”2.50 करोड़ रुपए कीमत का सोना इसलिए खो गया क्‍योंकि परिष्‍करण के लिए अनुपात में बदलाव किया गया था। इसके अलावा कॉन्‍ट्रैक्‍टर से बचे हुआ सोना नहीं रिकवर किया गया, जिससे 59 लाख रुपए का नुकसान हुआ।” राय की रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ है कि 14 लाख रुपए की चांदी की ईंटें भी गायब हैं। ”कनिक्‍का गिनने में पारदर्शिता नहीं दिखाई गई। नदावारव रजिस्‍टर में 14.18 लाख रुपए का सोना-चांदी नहीं दर्ज कराया गया, जो कि गैरकानूनी है।” रिपोर्ट के अनुसार, ”14 लाख रुपए की चांदी की ईंटें भी गायब पाई गई हैं।”

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>