‘दस दिन बाद खाना मिला, नहाने का पानी पी रहे हैं’

Jul 31, 2016

सऊदी अरब में जेद्दा और अन्य जगहों पर कई दिनों से बड़ी संख्या में भारतीय फंसे हुए हैं.

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के अनुसार सऊदी अरब में खाद्य पदार्थों का संकट झेल रहे भारतीयों की संख्या 10 हज़ार है.

कई महीनों से तेल की गिरती कीमतों के बाद सऊदी अरब और खाड़ी के अन्य देशों में कई कंपनियों का काम बंद हो गया.

कई भारतीय या तो बेरोज़गार हो गए हैं या फिर उन्हें वेतन नहीं मिला है.

सुषमा स्वराज ने भारतीय वाणिज्य दूतावास को इन भारतीयों तक खाने का सामना पहुँचाने को कहा है और सऊदी में रह रहे 30 लाख भारतीयों से भी इनकी मदद की अपील की है.

जेद्दा में फंसे भारतीय में से एक हैं राजस्थान में चुरू के रहने वाले इक़बाल ख़ान के बारे में राजस्थान में रह रहे उनके एक दोस्त ने ट्विटर पर सुषमा स्वराज को जानकारी दी थी.

बीबीसी की सुशीला सिंह ने फ़ोन पर इक़बाल ख़ान से बातचीत की है. इक़बाल ख़ान की जुबानी जेद्दा में फंसे भारतीयों के हालात जानें:

“हमें सात महीने से तनख्वाह नहीं मिली है. 10 दिनों तक हमें खाना भी नहीं मिला था.

जो भी भारतीय घर जाना चाह रहा है, उसे घर भी नहीं भेजा जा रहा है.

बुनियादी जरूरतें पूरी करनी बहुत मुश्किल हैं. पीने का पानी तक उपलब्ध नहीं है, हम नहाने का पानी पीकर गुजारा कर रहे हैं.

भारतीय दूतावास में हमने अपनी मुश्किलें बताई हैं. उन्होंने फिलहाल 10 दिनों तक का खाने का इंतजाम किया है.

जेद्दा में ऐसे करीब 800-900 भारतीय हैं जो मेरी तरह के हालात से जूझ रहे हैं. मैं हाउसकीपिंग का काम करता था. वो लोग यहां बिल्डिंग बनाने का काम करते हैं.

हम घर लौटना चाहते हैं पर कंपनी का दफ्तर बंद है. वहां कंपनी का कोई कर्मचारी नहीं है जिसे हम अपनी परेशानी बताएं.

हमारा सारा पैसा कंपनी के पास जमा है.

हम सभी भारतीय यहां कॉन्ट्रेक्ट पर आए थे. मैं यहां 29 महीनों से हूं.

हमने कई कमरे बनवाए थे. वो पैसे भी कंपनी के अकाउंट में ही जमा हैं.

यहां रहने के लिए कंपनी मालिक के ज़रिए जो रेसीडेंट परमिट (इकामा) बनता है उसके लिए किसी ने 2000 रियाल तो किसी ने 3500 रियाल भरे हैं.

लेकिन आठ-नौ महीने हो चुके हैं, ये रकम हमें वापस नहीं मिली है.

मैनें अपने दोस्त राजस्थान के चुरू के इमरान से अपनी मुश्किलें बताईं. इमरान से संपर्क के बाद ही बात मीडिया में आई.

भारतीय दूतावास के अधिकारी हमें 10 दिनों का खाना देकर गए हैं. उन्होंने कहा है कि वो फिर 10 दिन बाद हम कुछ व्यवस्था करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां करें. आप हमें और पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>