नीस के हमले पर आईएस की चुप्पी का मतलब?

Jul 15, 2016

दुनिया भर में होने वाले कई बड़े हमलों की तुरंत ज़िम्मेदारी लेने वाला इस्लामिक स्टेट फ्रांस के नीस में हुए हमले पर चुप है.

फ्रांसीसी क्रांति की याद में मनाए जा रहे एक जश्न के दौरान हमलावर ने भीड़ में ट्रक दौड़ा दिया, जिसमें 84 लोग मारे गए.

लेकिन दुनिया भर के मीडिया पर नज़र रखने वाली बीबीसी की मॉनटरिंग सेवा का कहना है कि इस्लामिक स्टेट के कथित रेडियो बुलेटिन में इस हमले का कोई ज़िक्र नहीं है, ना ही अभी तक किसी चरमपंथी समूह ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

इस चरमपंथी ग्रुप के अल बेयान रेडियो का इस्तेमाल पश्चिम में हुए हमलों की ज़िम्मेदारी लेने के लिए किया जाता रहा है.

ये भी पढ़ें :-  भारत, पाकिस्तान को दोस्ती बरकरार रखनी चाहिए : नवाज शरीफ

हालांकि आईएस की न्यूज़ एजेंसी ‘अमाक़’ को सबसे पहले ऐसी घटनाओं की ज़िम्मेदारी लेने के लिए जाना जाता है.

बीबीसी की मॉनीटरिंग टीम के मुताबिक़, “इस हमले को लेकर अल बेयान की ओर से कोई बयान न आने को इस बात का संकेत नहीं माना जाना चाहिए कि आईएस आगे इसकी जिम्मेदारी नहीं लेगा.”

हमला होने के पहले यानी 14 जुलाई से ‘अमाक़’ ने भी कोई भी रिपोर्ट जारी नहीं की है.

इस बीच, समाचार एजेंसी एएफ़पी के संवाददाता कैथरीन मार्सियानो ने ट्वीट कर बतया है कि नीस के हमलावर के फ्लैट की फ्रांसीसी अधिकारियों ने तलाशी ली है.

पुलिस ने हमलावर की पहचान मोहम्मद लावेइज़ बूहलल के रूप में की है, जो एक फ्रांसीसी ट्यूनीशियाई नागरिक है और नीस में ही रह रहा था.

ये भी पढ़ें :-  ट्रंप नया यात्रा प्रतिबंध जारी करने को तैयार

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप क्लिक कर सकते हैं. आप हमें और पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected