‘सेना से निराश था डलास का हमलावर’

Jul 12, 2016

अमरीका के डलास में पाँच पुलिसकर्मियों की जान लेने वाले पूर्व सैनिक मिकाह जॉनसन की मां का कहना है कि वो ‘सेना से निराश’ था.

उन्होंने ये भी कहा कि सेना के अनुभव ने जॉनसन को बदल दिया था.

उनकी मां डेलफाइन जॉनसन ने ‘द ब्लेज़ वेबसाइट’ को बताया कि सेना में जाने के बाद जॉनसन ‘बहुमुखी व्यक्ति से अकेलापन पसंद करने वाला व्यक्ति बन गया.’

उनके पिता जेम्स जॉनसन ने वेबसाइट से कहा, “मैं नहीं जानता कि मैं लोगों से क्या कहूं कि हालात बेहतर हो जाएं. वो ऐसा करेगा हम ये जान नहीं पाए.”

उन्होंने कहा, “मैं अपने बेटे को बहुत प्यार करता हूं, लेकिन उसने जो किया मैं उससे नफ़रत करता हूँ.”

ये भी पढ़ें :-  हिलटर का फोन अमेरिका में 2.43 लाख डॉलर में नीलाम

जॉनसन ने काले लोगों की पुलिस के हाथों हत्याओं के विरोध में आयोजित प्रदर्शन के दौरान गोलीबारी कर पांच पुलिसकर्मियों की जान ले ली थी और सात को गंभीर रूप से घायल कर दिया था.

बाद में पुलिस ने एक रोबोट बम की मदद से उन्हें मार दिया था.

पुलिस छानबीन के दौरान उनके घर से बम बनाने की सामग्री, राइफ़लें और लड़ाई का ब्यौरा देने वाला एक लिखित जर्नल भी मिला था.

डलास के पुलिस प्रमुख ने पुलिस कार्रवाई में जॉनसन की मौत का बचाव करते हुए कहा है कि अगर साथी पुलिसवालों की जान बचाने के लिए उन्हें दोबारा ऐसा करना पड़ा तो भी वो करेंगे.

ये भी पढ़ें :-  तुर्की में अब महिला सैन्य अफसरों को हिजाब पहनने की मिली इजाज़त

ब्राउन ने ये भी कहा कि जो काले लोग ग़ुस्से में हैं वो पुलिस में भर्ती हों और समाधान का हिस्सा बनें.

उन्होंने कहा, “हम नौकरियां दे रहे हैं. प्रदर्शनों से बाहर निकलो और फ़ॉर्म भरो.”

अमरीका में पुलिस के हाथों काले लोगों की हत्याओं के बाद ग़ुस्सा है और अफ़्रीकी-अमरीकी समुदाय ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ अभियान के तहत देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन कर रहा है.

हाल ही में दो काले लोगों की पुलिस गोलीबारी में मौत के बाद ये ग़ुस्सा और भड़क गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए . आप हमें और पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

ये भी पढ़ें :-  समुद्र को प्रदूषण मुक्त करने की मुहिम में 10 देश शामिल
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected