‘..उन पाँचों ने पिछले साल इस्लाम अपनाया’

Jul 10, 2016

रविवार को दिल्ली से प्रकाशित अंग्रेज़ी अख़बारों में कश्मीर में कथित चरमपंथी बुरहान वानी की एनकाउंटर में मौत के बाद भड़की हिंसा और इस्लामी प्रचारक ज़ाकिर नाइक से जुड़ी ख़बरों को प्रमुखता दी गई है.

इसके अलावा भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अफ़्रीका यात्रा से जड़ी ख़बरें भी अख़बारों में हैं. ‘द हिंदू’ ने पहले पन्ने पर प्रधानमंत्री मोदी की दक्षिण अफ़्रीका की रेल में यात्रा करते हुए तस्वीर प्रकाशित की है.

मोदी ने उन स्टेशनों के बीच यात्रा की जहां रेल से जाते समय महात्मा गांधी को 1893 में रंगभेद के कारण ट्रेन से बाहर निकाला गया था.

बुरहान वानी की मौत के बाद हिंसा की ख़बर पर हिंदुस्तान टाइम्स का शीर्षक है, “कश्मीर ऑन एज एेज़ वानी बैरिड” और इसी ख़बर पर द हिंदू का शीर्षक है, “वानीज़ डेथ ट्रिगर्स फ्यूरी, 11 किल्ड, 200 हर्ट इन कश्मीर.” लगभग सभी अख़बारों ने भारत प्रशासित कश्मीर में हुए प्रदर्शनों और पुलिस-प्रदर्शनकारियों की हिंसक झड़पों को पहले पन्ने पर जगह दी है.

एक रिपोर्ट में ‘द हिंदू’ लिखता है, “ज़ाकिर नाइक की ब्रिटेन में पंजीकृत संस्था जाँच के दायरे में.” रिपोर्ट के मुताबिक़ केंद्र सरकार ज़ाकिर नाइक की संस्था को विदेशों से मिले चंदे की जांच कर ही है.

डॉक्टर नाइक ब्रिटेन में पंजीकृत इस्लामिक रिसर्च फ़ाउंडेशन इंटरनेशनल से जुड़े हैं. ख़बर के मुताबिक इस संस्था को 2009-2014 के बीच चंदे में 70 लाख पाउंड मिले हैं.

‘संडे पॉयनियर’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ केंद्र सरकार ने ज़ाकिर नाइक के भाषणों की जाँच के लिए नौ दल गठित किए हैं. जांच एजेंसियां नाइक के फ़ोन कॉल और ईमेल रिकॉर्ड भी तलाश रही हैं और उनके विदेशी दौरों को प्रायोजित करने वालों के बारे में भी जानकारियां जुटा रही हैं.

‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ कुछ केंद्रीय कर्मचारी सातवें वेतन आयोग के बाद सिर्फ़ फ़ोन कॉल रिसीव करने के काम के बदले डेढ़ लाख रुपए तक की पगार पाएंगे.

मुख्य निजी सचिव के रूप में तैनात इन अधिकारियों का काम फ़ोन कॉल रिसीव करना, फ़ाइलें सही से रखना और दफ़्तरों के बिल चुकाना है.

‘द संडे एक्सप्रैस’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ केरल के 15 मुसलमान मध्य पूर्व में लापता हैं और उनमें से पाँच ने पिछले साल ही धर्मपरिवर्तन किया था. रिपोर्ट के मुताबिक़ ये पहले हिंदू और ईसाई थे. शक़ है कि अब ये इस्लामिक स्टेट से जुड़ गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप कर सकते हैं. आप हमें और पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>