‘ब्लैटर ने कई गुना बढ़ाया था अपना वेतन’

Jun 03, 2016

विश्व फ़ुटबॉल को संचालित करने वाली संस्था फ़ीफ़ा के अनुसार, उसको उसके अधिकारियों ने ही ‘नुकसान’ पहुंचाया है.

फीफ़ा के वकीलों के अनुसार इस बात के सबूत हैं कि तीन अधिकारियों ने बाकायदा ‘संयुक्त प्रयास’ के तहत 2011 से लेकर 2015 के बीच खुद को ‘लाभ’ पहुंचाया.

वकीलों के मुताबिक फ़ीफ़ा के पूर्व अध्यक्ष सेप ब्लैटर, पूर्व महासचिव ज़ैरूम वाल्क और पूर्व वित्त निदेशक मार्कूस कैटनर ने पांच वर्षों के दौरान 8 करोड़ डॉलर वेतन वृद्धि और बोनस बढ़ाकर हासिल किए.

ज़ैरूम वाल्क और मार्क्स कैटनर को पिछले साल भ्रष्टाचार के आरोपों में बर्खास्त कर दिया गया था. जबकि ब्लैटर ने इस्तीफ़ा दिया था.

ये भी पढ़ें :-  तेज गेंदबाज अनिकेत, नाथू और थंपी भविष्य के खिलाड़ी : कुंबले

फ़ीफ़ा ने इन लोगों के साथ हुए अनुबंध पत्रों के बारे में जानकारी दी है.

जांचकर्ताओं ने ब्लैटर और वाल्क से जुड़े कई अहम दस्तावेज़ भी ज़ब्त किए.

फ़ीफ़ा में पैसों के आपराधिक कुप्रबंधन के आरोपों के कारण ब्लैटर को छह और वाल्क को बारह वर्षों के लिए प्रतिबंधित किया जा चुका है. हालांकि दोनों हर आरोप को गलत ठहरा चुके हैं.

फ़ीफ़ा मई 2015 से ही अपने बुरे दौर से गुज़र रहा है. मई 2015 में अमरीकी जांचकर्ता एजेंसियों ने इसके शीर्ष स्तर पर हो रहे भ्रष्टाचार का पर्दाफाश किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप कर सकते हैं. आप हमें और पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

ये भी पढ़ें :-  टेनिस : रियो ओपन क्वार्टर फाइनल में रामोस-विनोलास
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected