नार्वे में हेलीकॉप्टर गिरने से 13 लोगों की मौत

Apr 30, 2016

नार्वे के पश्चिमी तट पर शुक्रवार को 13 लोगों को ले जा रहा एक हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

नार्वे के दूसरे सबसे बड़े शहर बर्गेन में समुद्र तट से दूर दोपहर के करीब यह हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया. वह उत्तरी सागर के एक अपतटीय तेल क्षेत्र से श्रमिकों को लेकर जा रहा था. बचावकर्मियों के अनुसार किसी के बचने का संकेत नहीं है लेकिन तलाश चल रही है.

सोला बचाव केंद्र के प्रवक्ता एंडर्स बैंग एंडरसन ने संवाददाताओं से कहा, ”वे किसी के बचे होने की उम्मीद से तलाश कर रहे हैं लेकिन हमें अबतक किसी के बचने के संकेत नजर नहीं आए हैं.”

उन्होंने कहा कि हेलीकॉप्टर बर्गेन हवाईअड्डा फ्लैशलैंड जा रहा था और हादसे के दौरान चालक दल के दो सदस्यों समेत उस पर 13 लोग सवार थे.

उन्होंने कहा, ”हेलीकॉप्टर का पता लगा लिया गया है और हम उस पर सवार लोगों को बचाने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं.”

इस घटना के चश्मदीद एक स्थानीय निवासी ने स्थानीय दैनिक बर्गेनसेवीसेन से कहा, ”एक धमाका हुआ और इंजन की विचित्र आवाज आयी, मैंने खिड़की से बाहर देखा. मैंने देखा हेलीकॉप्टर तेजी से समुद्र में गिर रहा था. तब मैंने एक बड़ा विस्फोट देखा.”

कुछ मीडिया संगठनों ने खबर दी कि हेलीकॉप्टर में सवार लोग बचा लिए गए लेकिन ये खबरें अंतर्विरोधी हैं और बैंग एंडरसन भी इसकी पुष्टि या खंडन करने की स्थिति में नहीं थे.

प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग ने ट्वीट किया, ”हेलीकॉप्टर हादसे की भयावह रिपोर्ट. मुझे बचाव अभियान के बारे में निंरतर बताया जा रहा है.”

मीडिया ने पहले इस हेलीकॉप्टर में 17 लोगों के सवार होने की बात कही थी.

 

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>